बीपीएससी पीटी का पर्चा लीक होने पर बोली कांग्रेस नेत्री, छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं करे नीतीश सरकार

बीपीएससी पीटी का पर्चा लीक होने पर बोली कांग्रेस नेत्री, छात्रों के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं करे नीतीश सरकार

BETTIAH : बिहार प्रदेश महिला कांग्रेस की नेत्री सह बाबू धाम ट्रस्ट की अध्यक्षा मंजुबाला पाठक ने बताया की हालिया बीपीएससी परीक्षा का पेपर लीक होना और फिर परीक्षा रद्द होना बिहार सरकार की विफलता की निशानी है। उन्होंने कहा की बिहार में छात्रों का भविष्य अंधकारमय है और आलम यह हैं कि यहां ना तो कोई रोजगार का श्रोत है ना ही सरकार की रोजगार सृजन की कोई इच्छा है। हाल ही में लाखों छात्रों ने बीपीएससी की पीटी परीक्षा में भाग लिया। लेकिन परीक्षा से पहले ही प्रश्नपत्र लीक हो गया और संदेह तो यह है कि इसमें सरकार के लोग भी शामिल हैं।

उन्होंने कहा की एक तो छात्रों का परीक्षा केंद्र अति दूर रखा गया। जहां छात्रों को जाने,रहने और खाने में काफी कठिनाई उठानी पड़ी। साथ ही परीक्षा रद्द होने से उनकी मानसिक और मनोवैज्ञानिक हालत पर प्रतिकुल प्रभाव पड़ा। पटना, मुज़फ्फरपुर,गया और सीतामढ़ी में लाखों छात्र अपनी आर्थिक हालत से जूझते हुए तैयारी करते हैं। लेकिन परीक्षा कैलेंडर सही नहीं होने और साथ ही चयनित परीक्षाओं में अनियमितता से उन छात्रों का भविष्य खराब हो रहा हैं। जिससे वो छात्र समाज की मुख्यधारा के प्रति उदासीन हो रहे हैं।


पाठक ने कहा की वैसे ही बिहार में व्यवसायिक और तकनीकी शिक्षण संस्थान का अभाव हैं और शिक्षा में निवेश भी कम है। जिससे आधारभूत संरचनाओं का विकास बाकी के राज्यों के जैसा नहीं हो पाया। फिर भी सरकार कुंभकर्णी निंद्रा में सोई है। उन्होंने आरोप लगाया की डबल ईंजन की सरकार की दोनो ईंजन फेल है। इस संदर्भ में मंजुबाला पाठक ने नीतीश सरकार से जल्द बिहार में शिक्षा के विकास और छात्रों के कैरियर के प्रति सकारात्मक रुख अख्तियार करते हुए समावेशी शिक्षा और उद्यमी शिक्षा को बढ़ावा देने और प्रतियोगी परिक्षाओं में पारदर्शिता अपनाने और दोषियों को कड़ी से कड़ी सज़ा देने की मांग की। साथ ही महिलाओं के उतरोतर विकास हेतु महिलाओं हेतु रोजगारोन्मुख शिक्षा पद्धति लागू करने की मांग की।

बेतिया से आशीष कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News