कोरोना, वायरल फीवर के बाद अब स्वाइन फ्लू ने दी पटना में दस्तक, बीमारी से एक मरीज की मौत, दो भर्ती, स्वास्थ्य महकमा हुआ अलर्ट

कोरोना, वायरल फीवर के बाद अब स्वाइन फ्लू ने दी पटना में दस्तक, बीमारी से एक मरीज की मौत, दो भर्ती, स्वास्थ्य महकमा हुआ अलर्ट

PATNA : अलग अलग बीमारियों से बिहार के कई जिले प्रभावित हैं, विशेषकर वायरल फीवर के कारण पांच सौ से अधिक बच्चे जिंदगी और मौत से जूझ रहे हैं, वहीं इन सबके बीच अब स्वाइन फ्लू ने पटना में दस्तक दी है। फुलवारी की बिरला कॉलोनी के अरविंद कुमार (58 वर्ष) की शुक्रवार दोपहर इनफ्लूएंजा-A से मौत हो गई है। वहीं, पारस हॉस्पिटल में दो मरीजों में स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई है।

वहीं इस खतरनाक वायरस की चपेट में कई और लोग भी हैं जो एक निजी हॉस्पिटल की ओपीडी में पहुंचे हैं, जिनका इलाज चल रहा है। पारस हॉस्पिटल की तरफ से दो मरीजों में स्वाइन फ्लू के H1N1 वायरस की पुष्टि की है। 

वायरल के बीच खतरनाक वायरस ने पसारा पांव

फुलवारी के संक्रमित 58 साल के अरबिंद कुमार की मौत के बाद मामला गंभीर हो गया है। सिविल सर्जन डॉ विभा कुमारी का कहना है कि महामारी रोग अधिकारी को अलर्ट कर दिया गया है। मामले की छानबीन की जा रही है। संक्रमण कहां से आया, इसकी पड़ताल की जा रही है। मृतक के बारे में भी जानकारी इकट्‌ठा कराया जा रहा है। सिविल सर्जन का कहना है कि मामला संज्ञान में आते ही जांच पड़ताल शुरु कर दी गई है।

लोगों से अलर्ट रहने की अपील, छिंकने से बढ़ती है बीमारी

वायरल के बीच स्वाइन फ्लू से दहशत बढ़ गई है। अब बुखार के मामले में लोगों को काफी सावधान होना होगा। डॉक्टरों का कहना है कि स्वाइन फ्लू के संक्रमण को लेकर लोगों को पूरी तरह से अलर्ट होना पड़ेगा। मास्क का प्रयोग और साफ सफाई को लेकर गंभीर होना पड़ेगा। इसमें खांसने, छींकने या छूने से भी स्वाइन फ्लू का वायरस एक से दूसरे व्यक्ति में पहुंच जाता है। 


Find Us on Facebook

Trending News