जेल में बंद कुख्यात, गैंगवार की आशंका

जेल में बंद कुख्यात, गैंगवार की आशंका

दानापुर जेल में कई ऐसे कुख्यात बंद हैं जो एक-दूसरे के खून के प्यासे हैं। अलग-अलग गैंग के सदस्यों को एक ही जेल में बंद रखा गया है। न्यूज4नेशन को तहकीकात में पता चला है कि रंजीत चौधरी गैंग का शार्प शूटर अभिषेक, जो हाल ही में हत्या के एक मामले में पकड़ा गया है, वो दानापुर जेल में बंद है। दूसरी ओर, अभिषेक के खून का प्यासा गुलाब भी दानापुर जेल में ही बंद है। अभिषेक पर गुलाब गैंग के बॉस लूलन शर्मा की हत्या में भी शामिल रहने का आरोप है। हथियारों के शौकीन अभिषेक के बारे में कहा जाता है कि वो गोली चलाने में उस्ताद है। उसका निशाना अचूक बताया जाता है। 

CRIMINALS-IN-JAIL-GANG-RIDDEN-OFF-IN-JAIL2.jpg

आपको बता दें कि नौबतपुर में पोस्ट ऑफिस के पास दिनदहाड़े लूलन शर्मा को विरोधी गुट के लोगों ने भून डाला था। इस हत्याकांड से पूरे इलाके में सनसनी फैल गयी थी और गैंगवार की आशंका से लोग सहम गये थे। लूलन का बेटा गुलाब बदला लेगा, इलाके में ऐसी चर्चा जोरों पर है। गुलाब गैंग लगातार अपनी ताकत बढ़ा रहा है। नौबतपुर में भाजपा नेता पारस सिंह व सुमन कुमार की हत्या एक ही दिन कर दी गयी थी। इस दोहरे हत्याकांड में गुलाब गैंग का नाम सामने आया था। रंजीत चौधरी व गुलाब गैंग के सदस्यों के बीच वर्चस्व को लेकर कई बार खूनी झड़प हो चुकी है। गुलाब के पिता लूलन की हत्या में रंजीत चौधरी गिरोह के मुचकुंद, माणिक व अभिषेक के शामिल होने का आरोप है। 

CRIMINALS-IN-JAIL-GANG-RIDDEN-OFF-IN-JAIL3.jpg

पिता की हत्या होने के बाद गुलाब ने गैंग की कमान संभाल ली और आपराधिक वारदातों को अंजाम देने लगा। इधर, कहा जाता है कि मुचकुंद, माणिक व अभिषेक पहले मनोज सिंह के लिए काम करते थे लेकिन अब सब की राहें अलग-अलग हो गयी हैं। मनोज व माणिक अलग हो गये हैं। मुचकुंद व अभिषेक रंजीत चौधरी गिरोह में शामिल हो गये हैं। गैंग के सदस्यों के बीच आपसी मनमुटाव चरम पर है, जिससे गैंगवार की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता है।   

Find Us on Facebook

Trending News