पहले लॉकडाउन के कारण नहीं हो सकी शादी, अब पांच लाख दहेज की करने लगा युवक का परिवार

पहले लॉकडाउन के कारण नहीं हो सकी शादी, अब पांच लाख दहेज की करने लगा युवक का परिवार

नवादा। पिछले साल लॉकडाउन के कारण हजारों युवतियों के हाथ पीले होने से रह गए थे। कईयों ने कोरोना नियमों का पालन करते हुए गिनती के लोगों के बीच शादी की थी, वहीं कई जोड़ो ने अपनी शादी की तारीख को आगे बढ़ा दिया था। ऐसा ही एक विवाह नवादा जिले  जिले के पकरीबरामा थाना क्षेत्र के एरी गांव के निवासी स्व. द्वारिका की पुत्री सोनम कुमारी और  कौवाकोल थाना क्षेत्र के मदनपुर गांव की निवासी बैकुंठ साव के पुत्र उपेंद्र कुमार से शादी का रिश्ता तय किया गया था। लॉकडाउन के कारण इन दोनों की शादी तो नहीं हो सकी, लेकिन अब इनकी शादी का मामला थाने तक जरुर पहुंच गया है।

दहेज के लिए शादी से किया इनकार

सोनम और उपेंद्र की शादी बीते साल 19 अप्रैल को होनी थी। पहले लॉकडाउन इनकी शादी में बाधा बन गई और अब दहेज के कारण फिर से इनकी शादी खटाई में पड़ गई है। दरअसल बीते साल शादी से पहले वधू पक्ष ने दहेज में दो लाख रुपए दिए थे। शादी की तारीख रद्द होने के बाद फिर दो लाख वर पक्ष को दिया गया। लेकिन अब वर पक्ष द्वारा दहेज में पांच लाख और देने का दबाव बनाया जा रहा है। लड़के वालों का कहना है कि पैसे देने के बाद ही शादी की नई तारीख तय की जाएगी। 

महिला थाने में की गई शिकायत

अपने होनेवाले ससुराल से दहेज में लाखों रुपए की मांग को लेकर वधू सोनम ने महिला थाना का दरवाजा खटखटाया, लेकिन वहां से कोई कार्रवाई  नहीं हुई। पीड़िता सोनम ने बताया कि हमारे परिवार इतनी पैसा देने लायक नहीं है।अब वह लोग लगातार हम लोगों को परेशान करने का भी काम कर रहे हैं। पैसा जल्द दे दे नहीं तो हम अपनी बेटा का शादी किसी और से कर देंगे। शादी की पूरी तैयारी हमारे घर में कर ली गई है। अब वह शादी करने से इनकार भी कर रहे हैं। उसने बताया कि महिला थाने से कोई कार्रवाई नहीं करने के बाद अब वह एसपी के पास अपनी परेशानी लेकर पहुंची है। उसने बताया कि उन्हें उम्मीद है कि यहां से पूरी सहायता मिलेगी।


Find Us on Facebook

Trending News