संयुक्त राष्ट्र में शामिल होने के लिए तालिबान की मांग, प्रवक्ता सुहैल शाहीन को बनाया UN के लिए राजदूत

संयुक्त राष्ट्र में शामिल होने के लिए तालिबान की मांग, प्रवक्ता सुहैल शाहीन को बनाया UN के लिए राजदूत

NEW DELHI : अफगानिस्तान की सत्ता पर जबरन कब्जा करने के बाद तालिबान का पूरी दुनिया में विरोध हो रहा है। पाकिस्तान सहित कुछ देशों को छोड़कर सभी देशों ने तालिबान की सरकार को मान्यता देने से इनकार कर दिया है। लेकिन इसके बाद भी तालिबान की तरफ से यह लगातार प्रयास किया जा रहा है उन्हें मान्यता मिले। इसी कड़ी में अब तालिबान ने नई मांग रखी है। तालिबान ने मांग की है कि  इस हफ्ते न्यूयॉर्क में होने जा रही संयुक्त राष्ट्र की महासभा  में विश्व नेताओं को संबोधित करने दी जाये. 

मिली जानकारी के अनुसार बता दें की तालिबान के विदेश मंत्री आमिर खान मुत्ताकी ने इस मुद्दे को लेकर सोमवार को UN के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस को पत्र लिख कर मांग रखी है कि अफगानिस्तान की ओर से उन्हें भी यूएनजीए में बोलने दिया जाए. इसके लिए  तालिबान ने प्रवक्ता सुहैल शाहीन को संयुक्त राष्ट्र में अफगानिस्तान का राजदूत भी नियुक्त कर दिया गया है. बता दें की  UN के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस के प्रवक्ता फरहान हक़ ने तालिबान के विदेश मंत्री आमिर खान मुत्ताकी की चिठ्ठी मिलने की पुष्टि की है।

क्रीडेंशियल कमेटी करेगी फैसला

मिली जानकारी के अनुसार बता दें की प्रवक्ता फरहान हक़ ने बताया की संयुक्त राष्ट्र में सीट पाने के लिए तालिबान की चिट्ठी को नौ सदस्यीय क्रीडेंशियल कमेटी के आगे भेजा गया है. बता दें की इस कमेटी में अमेरिका, रूस, चीन के अलावा बहमास, भूटान, चिली, नामीबिया, सिएरा लियोन और स्वीडन शामिल हैं. बता दें की तालिबानी शासकों ने पहले भी कहा था की वो वैश्विक नेताओं को संबोधित करना चाहता है. इसके साथ ही संयुक्त राष्ट्र से अगर तालिबान को अंतरराष्ट्रीय मान्यता मिलती है तो अफगानिस्तान में आर्थिक मदद के हाथ बढ़ सकते हैं.

Find Us on Facebook

Trending News