पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती पर बिहार में 'लोक संवेदना अभियान पखवारा' मनाने की मांग, पूर्व मंत्री ने मुख्य सचिव को लिखा पत्र

पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की जयंती पर बिहार में 'लोक संवेदना अभियान पखवारा' मनाने की मांग, पूर्व मंत्री ने मुख्य सचिव को लिखा पत्र

पटना. पूर्व मंत्री नीतीश मिश्रा ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिवस 'सुशासन दिवस' पर लोक संवेदना अभियान पखवारा मनाने के संबंध में बिहार के मुख्य सचिव को पत्र लिखा है. उन्होंने कहा है कि 25 दिसम्बर 2021 को भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिवस को सुशासन दिवस के रूप में मनाया जाता है. इसका उद्देश्य सरकारी प्रक्रिया को आम आदमी के लिए व्यावहारिक बनाकर एक पारदर्शी एवं जवाबदेह प्रशासनिक ढांचा बनाना है, जो सर्वसुलभ हो.

सरकारी कर्मियों द्वारा जनता एवं जनप्रतिनिधियों के साथ समुचित व्यवहार नहीं किये जाने से उत्पन्न असंतोष को दूर करने के व्यावहारिक समाधान के रूप में झंझारपुर के विधायक सह प्रदेश के पूर्व मंत्री व बिहार भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष नीतीश मिश्रा ने सुशासन दिवस पर बिहार में लोक संवेदना अभियान पखवारा मनाने के सम्बंध में मुख्य सचिव से पत्राचार किया है.

पूर्व मंत्री ने अपने पत्र में राज्य सरकार के सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा 3 दिसम्बर 2014 को जारी पत्र का उल्लेख करते हुए कहा है कि सभी विभागों के संबद्ध कार्यालय एवं जिलों में लोक संवाद अभियान प्रारंभ करने के संबंध में दिशा निर्देश निर्गत पूर्व में भी जारी किए गए हैं.

पूर्व मंत्री ने अपने पत्र में लिखा है कि बिहार सरकार सुशासन की सरकार का एक अनुपम उदाहरण है. सुशासन ही हमारी सरकार की विशेषता है. उन्होंने कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के जन्म दिवस पर लोक संवेदना अभियान को पखवारा के रूप में मनाने का अनुपम अवसर है, ताकि राज्य से प्रखंड स्तर तक सभी सरकारी कर्मियों के व्यवहार में जनप्रतिनिधियों वृद्ध महिला निःशक्त एवं समाज के वंचित वर्ग एवं जनसाधारण के प्रति संवेदनशीलता लाई जाए.

Find Us on Facebook

Trending News