प्राथमिक शिक्षक के सातवें चरण की बहाली को लेकर प्रदर्शन, सरकार को उग्र आंदोलन की चेतावनी

प्राथमिक शिक्षक के सातवें चरण की बहाली को लेकर प्रदर्शन, सरकार को उग्र आंदोलन की चेतावनी

पटना. सातवें चरण की प्राथमिक शिक्षकों की बहाली की मांग को लेकर लगातार अभ्यर्थी पर प्रदर्शन कर रहे हैं। इस बीच राज्य भर के विभिन्न जिलों से जुटे हजारों अभ्यर्थियों ने गांधी घाट से कारगिल चौक तक पैदल मार्च किया। जिससे अशोक राजपथ  घंटों जाम रहा। इस दौरान अभ्यर्थियों ने 'ये कैसी बहाली है, आधी सीट खाली है', 'सातवें चरण की प्राथमिक शिक्षक बहाली की विज्ञप्ति जारी करो' नारे भी लगाये।

पैदल मार्च कारगिल चौक पर सभा में तब्दील

प्रदर्शन को संबोधित करते हुए महिला प्रदेश अध्यक्ष विनीत विन्नी ने शिक्षा मंत्री के इस्तीफे की मांग की है। आंदोलन के तीसरे दिन भी शिक्षा विभाग के कोई अधिकारी धरनास्थल पर नहीं पहुंचे हैं।

क्यों हो रहा है प्रदर्शन?

छ्ठे चरण की 91 हजार से अधिक सीटों पर बहाली में शिक्षा विभाग को मात्र 42 हजार ही शिक्षक मिले हैं। तीन साल से शिक्षक अभ्यर्थी नई विज्ञप्ति की मांग कर रहे हैं, लेकिन सातवें चरण की बहाली शुरू नहीं की जा सकी है।

जारी रहेगा आंदोलन

बीएड उतीर्ण शिक्षक संघर्ष समिति के प्रदेश अध्यक्ष दीपांकर गौरव ने बताया कि सातवें चरण की प्राथमिक शिक्षक विज्ञप्ति की घोषणा होने तक राज्य भर के अभ्यर्थी गर्दनीबाग धरना स्थल पर जुटे रहेंगे। उन्होंने सरकार को चेतावनी दी कि यदि शिक्षक अभ्यर्थियों की मांग को नजरअंदाज किया गया तो आंदोलन और उग्र होगा।

Find Us on Facebook

Trending News