डिप्टी CM ने माना नल-जल योजना में शिकायत है, इस नं. पर करिये फोन 3 दिनों में समस्या का समाधान करेंगे

डिप्टी CM ने माना नल-जल योजना में शिकायत है, इस नं. पर करिये फोन 3 दिनों में समस्या का समाधान करेंगे

PATNA: बिहार बीजेपी के प्रदेश कार्यालय में नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी व नीतीश कैबिनेट में भाजपा कोटे से मंत्री बने नेताओं का अभिनंदन कार्यक्रम था। कार्यक्रम में सुशील मोदी,विधानसभा अध्यक्ष विजय सिन्हा व सभी मंत्री मौजूद थे।अभिनंदन समारोह में बीजेपी कोटे के सभी मंत्रियों ने अपनी कार्ययोजना बताई। वहीं भूमि सुधार व विधि मंत्री रामसूरत राय ने भाजपा के कार्यकर्ताओं को आश्वस्त किया और कहा कि हम आपके लिए सोच रहे हैं.वहीं डिप्टी सीएम रेणू देवी ने कहा कि नल-जल में थोड़ी गड़बड़ी की शिकायत है उसे ठीक किया जा रहा है। अभिनंदन समारोह में डिप्टी सीएम ने लोगों से आह्वान किया कि आप लोग फोन कीजिए तीन दिन के अंदर नल-जल की शिकायत दूर की जाएगी।

फोन करिये....

डिप्टी सीएम रेणु देवी ने भाषण में कहा कि नल-जल योजना में कहीं कहीं शिकायत है। लेकिन उस शिकायत को दूर करने के लिए हम प्रयास कर रहे हैं. भाजपा के कार्यकर्ताओं को अगर जानकारी हो तो तत्काल टॉल फ्री नंबर पर फोन करिए,तीन दिनों के अंदर उस समस्या को दूर कर लिया जाएगा। डिप्टी सीएम ने मंच से टॉल फ्री नंबर भी दिया और कहा कि 18603455555 पर फोन करिए और शिकायत दर्ज कराइए।हमारा लक्ष्य है कि पानी के लिए गरीबों को कहीं जाना नहीं पड़े।

भाजपा से जुड़े वकीलों को मिलेगा मौका!

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रामसूरत राय ने कहा कि हम भूमि सुधार और राजस्व मंत्री के साथ साथ विधि मंत्री भी हैं. उन्होंने कहा कि बिहार में जीमन संबंधी विवाद हैं. इससे लोगों को परेशानी होती है। हमने व्यवस्था में सुधार को लेकर कई तरह के काम शुरू किये हैं. अगर आपको किसी तरह की समस्या है तो तत्काल हमें पत्र लिखिए,आपके समस्या का त्वरित समाधान होगा। आप लोग पत्र भेजिए...हम खुद उसको पढ़ेंगे और समस्या का समाधान करूंगा। जमीन मालिकों की पीड़ा है,हमारे पास भी जमीन है,हम जानते हैं कि किस तरह से जमीन विवाद में लोग परेशान होते हैं.  वहीं विधि मंत्री के नाते रामसूरत राय ने पार्टी के विधि प्रकोष्ठ के कार्यकर्ताओं से कहा कि बहुत जल्द आप सबों का जो पीड़ा है उसका निदान करने वाला हूं। हालांकि मंत्री ने स्पष्ट तौर पर नहीं कहा कि किस समस्या का निदान करेंगे लेकिन उनके बयान से यही कयास लगाये जाने लगें हैं कि पीपी-एपीपी में भाजपा से जुड़े वकीलों को मौका मिल सकता है। 

जेडीयू के खाते से अध्यक्ष का पद लेकर गदगद हैं भाजपा नेता

बिहार विस चुनाव में भाजपा इस बार एनडीए में सबसे बड़ी पार्टी की हैसियत में आ गई। बीजेपी पर जो छोटे भाई का धब्बा लगा था वो समाप्त हो गया और अब बड़े भाई की भूमिका में आ गई। जेडीयू जो अब तक बड़े भाई की भूमिका में थी वह छोटा भाई हो गया। लिहाजा भाजपा ने इस बार जेडीयू के खाते से विस अध्यक्ष का पद ले लिया। 2005 से लेकर अब तक जेडीयू के खाते में ही विस अध्यक्ष की कुर्सी थी। लेकिन इस बार सब कुछ उलट हो गया। इस तरह से बिहार भाजपा के इतिहास में पहली दफे अध्यक्ष की कुर्सी आई है। सुशील मोदी व अन्य मंत्रियों के अभिनंदन सामारोह में बोलते हुए स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि अब विधानसभा अध्यक्ष की कुर्सी भी भाजपा के पाले में आ गई है। पार्टी के एक सिपाही विजय सिन्हा अध्यक्ष बन गए हैं. उनके अध्यक्ष बनने से सुशील मोदी को आज काफी खुशी हो रही होगी। भाजपा के इतिहास में आज तक बिहार विस अध्यक्ष की कुर्सी नहीं मिली थी। लेकिन आज पार्टी के कार्यकर्ताओं के परिश्रम का फल है कि वह कुर्सी भी मिल गई। वहीं डिप्टी सीएम का पद भी एक महिला कार्यकर्ता को दी गई है।

उप मुख्यमंत्री कहते-कहते उब चुके थे भाजपा कार्यकर्ता

कृषि मंत्री ने आगे कहा कि 2005 से लगातार सुशील मोदी को उप मुख्यमंत्री-उप मुख्यमंत्री कहते कहते भाजपा के कार्यकर्ता और हम सबलोग उब चुके थे। इस बार वे डिप्टी सीएम नहीं बने तो हमलोगों को काफी खुशी हुई। अमरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि हमलोग चाहते थे कि मोदी जी काफी आगे जायें।भाजपा नेतृत्व ने अब सुशील मोदी को डिप्टी सीएम नहीं बनाकर राज्यसभा भेजा है।

अब पूरे देश में छायेंगे मोदी जी

अभिनंदन समारोह में बोलते हुए मंत्री ने कहा कि अब ये पूरे देश में छायेंगे। अब तक बिहार में चाये हुए थे,लेकिन अब देश के लिए काम करेंगे। लेकिन हमलोग इनको छोड़ने वाले नहीं है। जहां भी रहेंगे इनको पकड़े रहेंगे,अभी काफी कुछ सुशील मोदी जी से सीखना है।

हालांकि सुशील मोदी को डिप्टी सीएम नहीं बनाये जाने पर तरह-तरह की चर्चा शुरू हुई थी।कहा जा रहा था कि विरोधी गुट ने इस बार सुशील मोदी को डिप्टी सीएम नहीं बनने दिया। कई बार सीएम नीतीश भी कह चुके हैं कि हम तो चाहते थे कि बिहार में ही सुशील मोदी काम करें।

 

Find Us on Facebook

Trending News