फिर से चेन्नई के कप्तान बने धोनी ने पीली जर्सी को लेकर की घोषणा - कभी नहीं छूटेगा साथ, लेकिन...

फिर से चेन्नई के कप्तान बने धोनी ने पीली जर्सी को लेकर की घोषणा - कभी नहीं छूटेगा साथ, लेकिन...

DESK : आईपीएल में चेन्नई के कप्तान के रूप में महेंद्र सिंह धोनी की वापसी हो गई है। कल पूणे में खेले गए मैच में उनकी कप्तानी में सीएसके ने सनराइजर्स हैदराबाद की टीम को 13 रन से हरा दिया। लेकिन मैच के परिणाम से ज्यादा चर्चा टॉस के दौरान धोनी की बातों को लेकर हो रही है। 

टीम के खराब प्रदर्शन के बाद फिर से कप्तानी संभाल रहे धोनी ने अपने भविष्य और पीली जर्सी को लेकर बड़ा बयान दिया है। टॉस के वक्त महेंद्र सिंह धोनी से सवाल हुआ कि क्या वह आगे भी पीली जर्सी (CSK के लिए) खेलते हुए नज़र आएंगे. जिसपर एमएस धोनी ने हंसते हुए जवाब दिया और कहा कि बिल्कुल, आप मुझे येलो जर्सी में ही देखोगे, लेकिन वो ये होगी या कोई और उसके बारे में नहीं पता। इस दौरान जब धोनी टॉस के लिए पहुंचे, मैदान में हर तरफ उनके नाम का शोर गूंज रहा था।

क्या आखिरी आईपीएल है धोनी का

जिस तरह से धोनी ने यह बयान दिया, उसके बाद उनके भविष्य को लेकर कयास लगने शुरू हो गए कि क्या धोनी अपना आखिरी आईपीएल खेल रहे है। फिलहाल, धोनी 40 साल के हैं। उन्होंने इसीलिए कप्तानी भी छोड़ी थी, ताकि आनेवाले साल के लिए अभी से ही एक मजबूत नेतृत्व तैयार किया जा सके। लेकिन मजबूरी में उन्हें फिर से कप्तान बनना पड़ा। 

पिछले साल ही जडेजा को बोल दिया था

मैच के बाद प्रेंजेटेशन सेरेमनी के दौरान एमएस धोनी से जब बतौर कप्तान उनकी वापसी पर सवाल हुआ तब उन्होंने जवाब दिया कि कप्तान बदलने से ही चीज़ें आसानी से नहीं बदलती हैं, क्योंकि अगर आप एक ही ड्रेसिंग रूम में होते हो तो वही बातें दोहराते ही रहते हो। इस दौरान रवींद्र जडेजा के कप्तानी छोड़ने और टीम के प्रदर्शन पर एमएस धोनी ने कहा, ‘रवींद्र जडेजा को पिछले सीजन में ही पता लग गया था कि उन्हें इस सीजन में कप्तानी करने का मौका मिल सकता है. ये मेरे और जडेजा की बात थी, ऐसे में उनके पास तैयारी का भरपूर मौका था.’

शुरू के दो मैचों में दखल दिया

एमएस धोनी ने कहा कि मैंने शुरू के दो मैच में चीज़ों में दखल दिया, लेकिन उसके बाद रवींद्र जडेजा पर ही सारे फैसले छोड़ दिए. क्योंकि सीजन के अंत में आप ये नहीं चाहते कि कोई सोचे मैं सिर्फ टॉस के लिए था और कप्तानी कोई और ही कर रहा था. ऐसे में ये ट्रांजिशन का हिस्सा था.

सीएसके ने एक बयान में कहा था कि रवींद्र जडेजा और टीम मैनेजमेंट ने एमएस धोनी से फिर कमान संभालने की अपील की. क्योंकि रवींद्र जडेजा के कप्तान बनने से उनके परफॉर्मेंस पर फर्क पड़ रहा था, ऐसे में टीम के हित में एमएस धोनी ने ये अपील स्वीकारी है


Find Us on Facebook

Trending News