बाढ़ के पानी में डूबने से इंजीनियर की मौत, परिजनों ने मची चीख पुकार

बाढ़ के पानी में डूबने से इंजीनियर की मौत, परिजनों ने मची चीख पुकार

CHAPRA : मशरक थाना क्षेत्र के पचखंडा गांव में शनिवार की दोपहर बाढ़ के पानी में डूबने से एक युवक को अचेतावस्था में हो गया. जिसे इलाज के लिए पीएचसी मशरक में भर्ती कराया गया. इलाज के दौरान ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक डॉ अनंत नारायण कश्यप ने उसे मृत घोषित कर दिया. मृत युवक की पहचान पचखंडा गांव निवासी सुरेश कुमार चौधरी के 25 वर्षीय पुत्र सतीश कुमार के रूप में हुई.

परिजनों ने बताया कि युवक दोपहर में घर से पंचखडा चौधुर मोड़ के चार मुहानी पर अपने पिता के दुकान पर जा रहा था कि रास्ते में बाढ के पानी का अंदाज नही मिल पाया और गहरे पानी में डूब गया. आस पास के लोगों ने पानी से निकाल पीएचसी पहुंचाया. जहां चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया. 

मृत युवक बंगलौर में अमेरिकन कंपनी में इंजीनियर के पद पर कार्यरत था. लॉक  डाउन में छुट्टी में घर आया था. गांव में नही रहने से उसे गांव की सड़कों का अंदाज नही मिल पाया और गड्ढे की तरफ चला गया. मृत युवक अपने घर का कमाउ सदस्य था. उसका एक छोटा भाई अभी पढ़ाई-लिखाई करता है. मृत युवक के परिजनों के चित्कार से पीएचसी परिसर का माहौल गमगीन हो गया. 

मौके पर बाढ़ प्रभावित इलाकों का भ्रमण कर रहे जदयू नेता विरेन्द्र ओझा,भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ रामदयाल शर्मा,जिला उपाध्यक्ष बृजमोहन सिंह,भाजपा नेता सह पेट्रोल पंप व्यवसायी उपेन्द्र कुमार सिंह, बीरबल प्रसाद ने घटना की सूचना पाकर पीएचसी पहुंचे और पीड़ित परिवार को सांत्वना दिया. पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है. 

छपरा से कन्हैया की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News