देश में दुष्कर्म की घटनाओं को लेकर फूटा लोगों का गुस्सा, मुंह पर काला कपड़ा बांधकर किया पैदल मार्च

देश में दुष्कर्म की घटनाओं को लेकर फूटा लोगों का गुस्सा, मुंह पर काला कपड़ा बांधकर किया पैदल मार्च

GAYA : नेशनल ह्युमन राइट्स एंड पब्लिक वेलफेयर ट्रस्ट की ओर से आज गया शहर में मौन जुलूस निकाला गया. जुलूस का नेतृत्व जिलाध्यक्ष जान्या चाणक्या ने किया. इसमें सैकड़ो महिला और पुरुष ने भाग लिया. सभी ने अपने मुँह पर काला कपड़ा बांध कर पीर मंसूर से टॉवर चौक तक पैदल शांतिपूर्ण मार्च किया तथा अपना रोष जताया. जुलूस में बेटियों की सुरक्षा को लेकर सभी लोगों ने अपने हाथों में कई तरह के स्लोगन लिखा पोस्टर पकड़ा था. 

वहीं मुख्य सचिव गणेश सिंह ने बताया की आज न्यायालय, सरकार और पुलिस प्रशासन भी ऐसे मामलों में काफी कठोर दिखाई तो देती हैं. लेकिन आज भी इंसाफ लेने में पीड़िता के परिजनों को सालों साल तक परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं. 

जिस प्रकार देश की सुरक्षा व्यवस्था सरकार और पुलिस प्रशासन की जिम्मेदारी है. ठीक उसी प्रकार बेटियों और महिलाओं की भी सुरक्षा को लेकर अहम कदम उठाने की आज समाज को जरूरत है. 

मौन जुलूस में सूफिया तबस्सुम, शालनी कुमारी, मधु कुमारी, शारदा देवी, पंकज बर्णवाल, राजन पांडेय, लक्ष्मण केसरी, डॉ० राजीव रंजन, मुन्ना पासवान, पूजा बर्णवाल, शैलजा सिंह, अनिता कुमारी, कुमारी सुमन, सलीला देवी, मनीष बर्णवाल, रेखा कुमारी, आयुषी कंडेल, शिष्या वर्धन, सतीश बर्णवाल, अमित लहरी, दीपक सिन्हा, कृष्णा कुमार, महताब आलम, मुकेश कुमार, राजू कुमार, रवि उर्फ किशु, सचिन कुमार, मो० सद्दाम, संजय कुमार, इन्दु देवी, रूबी देवी अन्य लोग शामिल थे. 

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News