बुजुर्ग महिला की जमीन उसके भाई बिल्डर के साथ मिलकर कर रहा है कब्जा, पुलिस का भी नहीं मिल रहा साथ

बुजुर्ग महिला की जमीन उसके भाई बिल्डर के साथ मिलकर कर रहा है कब्जा, पुलिस का भी नहीं मिल रहा साथ

पटना. बिहार में भू माफियाओं का राज जारी अभी भी चल रहा है। पुलिस प्रशासन के साथ मिलकर जमीनों पर कब्जा किया जा रहा है। इस तरह का एक मामला राजधानी पटना से सटे बिहटा अंचल के नेउरा ओपी थाना क्षेत्र में सामने आया है। यहां पटना के सुलतानगंज थाना क्षेत्र के पत्थर मस्जिद निवासी सैयद मोहम्मद अली की 79 वर्षीय पत्नी अजरा अली ने बताया कि उनकी खानदानी जमीन के उनके हिस्से पर पटना का एक नामी बिल्डर का नजर है। पीड़िता ने बताया कि उसका भाई, बिल्डर और स्थानीय थानाधिकारी से मिलकर जमीन हड़पना चाहता है. इसको लेकर महिला जनता दरबार में भी शिकायत की है।

पीड़िता ने बताया कि गलत तरीके से मेरे भाई ने बिल्डर के नाम जमीन का एग्रीमेंट कर दिया है, जबकि जमीन का रसीद मेरे नाम से कटता है। यहां तक मैंने इस शिकायत को लेकर नेउरा थाना और बिहटा अंचलाधिकारी के पास गई तब उस वक्त के तत्कालीन अंचलाधिकारी ने मेरे पक्ष में फैसला सुनाया। इसके बावजूद इस शिकायत को लेकर कई बार नेउरा थाना ओपी के थानाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार के पास भी गई, लेकिन उन्होंने मेरी बात तक नहीं सुनी।


उन्होंने कहा कि मेरे भाई ने मेरे जमीन का रसीद भी गलत दस्तावेज देकर कटवाना चाहा। इसके बाद मैंने इसकी शिकायत दानापुर डीसीएलआर से किया, जिन्होंने शिकायत को गंभीरता से लेते हुए तत्कालीन अंचलाधिकारी को जांच का आदेश दिया तब जाकर जांचोपरांत मेरे नाम से जमीन का रसीद कटना शुरू हुआ। साथ ही पीड़िता महिला ने बताया कि भाई सैयद एहतेशामुउद्दीन, दो भतीजे सैयद आतीफ अहमद व सैयद आसिफ अहमद और मेरी भाभी तलत जहां मुझे बार-बार मानसिक रूप से प्रताड़ित कर रहे हैं। यहां तक कि धमकाते हुए जालसाज कागजातों के आधार पर मेरे हिस्से की जमीन पर कब्जा करना चाहा।

पीड़िता ने कहा कि जब मुझे वहां के स्थानीय ग्रामीणों के द्वारा सूचना मिली कि मेरे जमीन, जो खाता संख्या -143 खेसरा- संख्या 839, एआरजी संख्या-50.4 डिसमिल है। उस पर पैसिफिक होम गार्डन के मालिक संजय कुमार सिंह, मेरे भाई और नेउरा थाना के थानाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार मिली भगत से की जा रही है। यह जमीन कृष्णा पब्लिक स्कूल के समीप है। इससे पूर्व मैंने कई बार नेउरा थानाअध्यक्ष धमेंद्र कुमार को इसकी सूचना दी, लेकिन उन्होंने एक करवाई तक नहीं की। मुझे शक है कि मोटा रकम लेकर उन्होंने मेरे जमीन पर अवैध कब्जा करने का आदेश दिया गया है।

वहीं पीड़ित महिला अजरा अली ने दानापुर एएसपी के अलावा मुख्यमंत्री जनता दरबार में भी इसकी शिकायत की है। साथ ही उन्होंने डीजीपी मुख्यालय में भी आवेदन दिया है। डीजीपी की तरफ से पूरे मामले की जांच करने का आदेश भी जारी कर दिया गया है। वहीं इस पूरे मामले पर बिहटाके सर्किल इंस्पेक्टर प्रमोद कुमार ने बताया कि जानकारी प्राप्त हुई है कि पीड़ित महिला अजरा अली की जमीन किसी बिल्डर, उनके भाई हड़पना चाहता है। महिला ने यह भी आरोप लगाया कि थानाध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार के द्वारा मिलकर यह सारा खेल किया जा रहा है। शिकायत की जांच की जा रही है, जो भी दोषी पाए जाएंगे उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।


Find Us on Facebook

Trending News