भागलपुर के गुवारीडीह पहुंचे सीएम नीतीश कुमार, कहा इलाके को ऐतिहासिक जगह के रूप में किया जायेगा विकसित

भागलपुर के गुवारीडीह पहुंचे सीएम नीतीश कुमार, कहा इलाके को ऐतिहासिक जगह के रूप में किया जायेगा विकसित

भागलपुर/नवगछिया : बिहपुर के जयरामपुर पंचायत के गुवारीडीह में कोसी नदी के कटाव से निकले पुरातात्विक सामग्रियों एवं गुवारीडीह स्थल का अवलोकन करने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गुवारीडीह पहुचें. इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि यह इलाका प्राचीन सभ्यताओं से जुड़ा हुआ है. यह जगह पौराणिक ऐतिहासिक रही होगी. यहां पर मिले पुरातात्विक सामग्री 25 सौ वर्ष या उससे अधिक समय की होने की बात बताई जा रही है. बिहार के इस इलाके में इस तरह की सभ्यता का प्रमाण मिल सकते हैं. उन्होंने कहा कि पिछले दिनों भागलपुर के बांका में भी पुरातत्व सामग्री मिले है. लेकिन यहां जो पुरातत्व सामग्री मिले है वे काफी महत्वपूर्ण है. उन्होंने कहा की मैं तो धन्यवाद देता हूं यहां के विधायक इंजीनियर शैलेंद्र जी को जिन्होंने मुझे इसकी जानकारी दी. यहां आने के बाद पता चला कि यहां के लोगों को पहले भी पुरातत्व के अवशेष मिले हैं. यहां के युवाओं ने उन अवशेषों को इकट्ठा करके रखा है. पुरातत्व सामग्रियों के तस्वीर मिलने के बाद मैंने यहां आकर सब कुछ देखा. यह एक ऐतिहासिक जगह है. आज तक जितने जगहों को मैंने देखा है. उस तजुर्बे से यह कह सकता हूं कि यह एक ऐतिहासिक जगह है. यह कहना कि यह 25 सौ साल पुराना है. यह उससे ज्यादा भी हो सकता है. यह पौराणिक  जगह ऐतिहासिक जगह है. इसके बारे में सबको जानकारी होनी चाहिए. पुरातत्व अवशेष मिलने के जानकारी मिल गई है. 


उन्होंने कहा की हमारे साथ विभाग के मंत्री प्रधान सचिव आए हुए हैं. यहां की सभ्यता की जानकारी प्राप्त करेंगे. जगह का पूरा अध्ययन करेंगे. जगह जगह खुदाई करके देखेंगे कि कहां-कहां पौराणिक चीजें मिल रही है. ऐतिहासिक चीजें मिलेंगी तो उसे पूरा का पूरा पता चल पाएगा कि इस का एरिया कितना बड़ा है. इसके बारे में अगर कन्फर्मेशन हो गया तो मैं पूरे इलाके को ऐतिहासिक जगह के रूप में विकसित करूंगा. जरूरत पड़ने पर जो लोग यहां हैं उन लोगों की जमीन को भी एक्वायर करेंगे. पहले तो देख कर यह तय किया जाएगा कि इसका एरिया कितना बड़ा है. मैंने इस टीले के दोनो तरफ को देखा है. दोनों तरफ देखने से यह लगता है कि इसका एरिया काफी बड़ा है. यहां का अध्ययन करने के बाद और बड़ी जानकारी निकलकर सामने आएगी. यह जरूर ही बहुत बड़ी जगह रही होगी. 

सीएम ने कहा कि अब तो इसके बारे में पूरी जानकारी लेंगे. इस इलाके को कोसी नदी से सुरक्षित करने के लिए उपाय की जाएगी. जगह-जगह जाकर पूरे इलाके का अध्ययन किया जाएगा. नतीजा सामने आने पर आगे उपयुक्त कार्रवाई की जाएगी. अगर कुछ सामने आता है तो यहां की पूरी जानकारी राज्य ही नहीं पूरे देश दुनिया को इसकी जानकारी दी जाएगी. बहुत लोग इसमें रूचि रखेंगे जानकारी लेंगे. सीएम ने कहा कोई भी इलाका जो डिस्ट्रॉय हुआ है. वह हजार साल से कम पुराना नहीं है. लेकिन यहां उससे पुराना 25 सौ साल या उससे अधिक अवधि के अवशेष दिख रहे हैं. यह बहुत बड़ी बात है सब चीजों के बारे में जानकारी प्राप्त करना ही यही हमारा लक्ष्य है. इससे पूर्व उन्होंने गुवारीडीह में मिले पुरातत्विक सामग्रियों के बनाए गए प्रदर्शनी को जाकर देखा. इस दौरान उन्होंने हर वस्तु के बारे में विशेषज्ञ से जानकारी ली. प्रदर्शनी निरीक्षण के बाद जहां पर दिवाल मिले हैं उक्त स्थल का भी अवलोकन किया. सीएम ने गुवारीडीह टीले के दोनो ओर जाकर घूम कर देखा.  करीब 20 मिनट तक बारिकी से स्थल का निरीक्षण किया. 


कोसी नदी को डायवर्ट कर स्थल को सुरक्षित करने के दिए निर्देश 

निरीक्षण स्थल पर ही सीएम नीतीश कुमार ने तत्काल गुवारीडीह स्थल को सुरक्षित करने का निर्देश जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को दिया. सीएम ने कहा कि यह ऐतिहासिक जगह है. सबसे पहले इसे सुरक्षित किया जाएगा. इसको लेकर मंत्री, प्रधान सचिव एवं अधिकारीयों से समीक्षा कर ली गई है. कोसी नदी को यहां पर डायवर्ट किया जाएगा. ताकि पूरा इलका सुरक्षित रहे. 

भागलपुर से अंजनी कुमार कश्यप की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News