पूर्णिया में शादी समारोह में डीजे बजाने को लेकर दो गुटों में हुई गोलीबारी, एक को लगी गोली

पूर्णिया में शादी समारोह में डीजे बजाने को लेकर दो गुटों में हुई गोलीबारी, एक को लगी गोली

PURNEA : पूर्णिया रिमांड होम से हाउस फादर की हत्या कर भागे 5 बाल कैदी एकबार फिर सुर्खियों में है। शुक्रवार देर रात इनलोगो के द्वारा फिर एक घटना को अंजाम दिया गया। जिसमें एक युवक को गोली लगी है। घटना शहर के सहायक खजांची हाट थाना क्षेत्र अंतर्गत रजनी चौक माँ भवानी विवाह भवन में घटी है। शादी समारोह के दौरान डीजे बजाने को लेकर हुए विवाद में बाल अपराधी शुभम कुशवाहा ने अपने साथियों के साथ मिलकर गांधीनगर निवासी स्वर्गीय दिलीप सिंह के पुत्र शुभांगम सिंह उर्फ सानू सिंह को गोली मार दी है। शादी भी कोई ऐसे वैसे की नहीं थी। बल्कि रिमांड होम हत्याकांड के एक अन्य आरोपी कालू की थी। जिसमे घायल सानू सिंह और शुभम कुशवाहा दोनो पहुँचा था।

बताया जाता है कि शुक्रवार रात्रि माँ भवानी विवाह भवन में बनमनखी से लड़की पक्ष आकर शादी समारोह कर रहे थे। जिसमें सुदिन चौक से बारात आयी थी। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि रात्रि 11: 30 बजे डीजे बजाने के सवाल पर दो लड़कों में झगड़ा हो गया था। जिसमे घायल सानू सिंह और उसके दोस्त ने एक युवक की पिटाई कर दी। जिसके बाद मार खाये युवक ने शुभम को फोन कर दिया। थोड़ी देर के बाद शुभम कुशवाहा विवाह भवन पहुँचकर निश्चय नाम के लड़कों को बाहर आने को कहा। बाहर आने पर दोनो के बीच बहस हो गई। वही बहस होता देख सानू सिंह फिर सबसे उलझ गया और देखते देखते विवाद बढ़ गया। जिसके बाद शुभम और उसके साथियों ने सानू सिंह को गोली मार दी, जो उसके कंधे में लगी है। गोली मारने के बाद सभी नेवालाल चौक के तरफ फरार हो गए। घटना की पूरी वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई है

वहीं घटना में घायल युवक के साथियों ने अपने साथियों और परिजन को इसकी सूचना दी। जिसके बाद विवाह भवन पहुँच उनलोगों के द्वारा भी उत्पात मचाया गया और दूल्हे के चचेरे भाई ततमा टोली निवासी सूरज शाह का पुत्र राकेश की जमकर पिटाई कर दी। इस मारपीट की भी पूरी घटना सीसीटीवी में कैद है।वही गंभीर रूप से घायल युवक को एक निजी हॉस्पिटल में इलाज हेतु भर्ती कराया गया है

घटना को लेकर घायल पक्ष और लड़के पक्ष दोनों तरफ से थाने में आवेदन दिया गया है। लड़के पक्ष का कहना है कि लड़ाई सड़क पर हुई है उस मामले से उसका कोई लेना देना नहीं है। घटना को लेकर सदर एसडीपीओ सुरेंद्र कुमार सरोज ने बताया कि थाने में दोनो तरफ की प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर दोनों पक्ष में से जो भी दोषी होंगे उनपर कार्यवाई की जाएगी।


पूर्णिया से तहजीब की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News