देश में फुटबॉल को बढ़ाने के लिए शुरू हुआ बच्चों का फुटबॉल लीग

देश में फुटबॉल को बढ़ाने के लिए शुरू हुआ बच्चों का फुटबॉल लीग

देश में फुटबॉल की हालत क्या है इससे कोई भी वंचित नहीं है, फुटबॉल का फ्यूचर नहीं होने के कारण ही देश में फुटबॉलर की हालत खराब है. इसको देखते हुए मेघालय में बच्चो की एक फुटबॉल लीग तैयार हुई है, जो फुटबॉल को प्रमोट कर रहे हैं. बच्चे के टैलेंट को और खेल से आप भी नज़र नहीं हटा पाएंगे। हर शनिवार शिलांग में बच्चे रंग-बिरंगे जेर्सी पहनकर मैदान में फुटबॉल खेलने उतर जाते हैं.

FOOTBALL-LEAGUE-FOR-CHILDREN2.jpg

टीम में 4 साल से 13 साल के बच्चे रहते हैं और 10 मिनट का एक हाफ होता है. बच्चों की उम्र के हिसाब से टीम बांटे जाते हैं. लीग में बच्चों को कुल 40 गेम खेलने होते है.

FOOTBALL-LEAGUE-FOR-CHILDREN3.jpg

लीग पूरी तरह से लैंगिक समानता को दर्शाता है और इसलिए टीम में कम से कम 10% फीमेल खिलाड़ी होनी चाहिए। एआईएफएफ और मुख्य प्रायोजक टाटा ट्रस्ट के सहयोग से राज्य के फुटबॉल एसोसिएशन द्वारा बच्चों और मेघालय संस्करण के लिए प्रतिस्पर्धी मंच की आवश्यकता से लीग का आयोजन करने का विचार राज्य के फुटबॉल एसोसिएशन द्वारा आयोजित किया जा रहा है।

FOOTBALL-LEAGUE-FOR-CHILDREN4.jpg

मेघालय के बाद अब बंगलुरु और ओड़िसा भी इस सफर में आगे बढ़ने वाले है और फुटबॉल को भी आगे बढ़ा रहे हैं. 

Find Us on Facebook

Trending News