राजद सुप्रीमो को चांदी के सिक्के से तौलनेवाले पूर्व मंत्री योगेंद्र पांडेय ने ली अंतिम सांसे, लालू प्रसाद के पहलीबार सीएम बनने के थे साक्षी

राजद सुप्रीमो को चांदी के सिक्के से तौलनेवाले पूर्व मंत्री योगेंद्र पांडेय ने ली अंतिम सांसे, लालू प्रसाद के पहलीबार सीएम बनने के थे साक्षी

MOTIHARI : कभी लालू प्रसाद को चांदी के सिक्कों से तौलनेवाले पूर्व लघु सिंचाई मंत्री योगेंद्र पांडेय का निधन हो गया है। वह 88 साल के थे। बताया गया कि वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे और अपना ज्यादातर समय गोबिंदगंज विधानसभा के लौरिया गांव में ही बीता रहे थे। बीती रात गांव में ही उनका निधन हो गया। उनके निधन से क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई है और अंतिम दर्शन के लिए आज सुबह से ही लोगों के आने का सिलसिला शुरू हो गया है।

लालू प्रसाद के पहली बार मुख्यमंत्री बनने के थे साक्षी

योगेंद्र पांडेय उन नेताओं में शामिल रहे, जिन्हें लालू प्रसाद के पहली बार मुख्यमंत्री बनने के सफर को करीब से देखा। लालू प्रसाद के मुख्यमंत्री के पहले कार्यकाल में वह 1990-95 के बीच बिहार के लघु सिंचाई मंत्री रहे। इस दौरान वह गोविंदगंज 1985 और 1990 में विधायक चुने गए। योगेंद्र पांडेय तब सबसे ज्यादा चर्चा में आए, जब उन्होंने तत्कालीन मुख्यमंत्री लालू प्रसाद को चांदी के सिक्के में तौल दिया था। ऐसा करनेवाले वह बिहार के पहले मंत्री थे। 

राशन डीलर का करते थे काम

पूर्व मंत्री योगेंद्र पाण्डेय  राशन डीलर का काम करते थे। राशन डीलर से मंत्री तक का सफर काफी लोकप्रिय रहा। इस दौरान वह गोबिंदगंज विधानसभा के रढिया पंचायत के दो बार मुखिया रहे। यहां से उन्होंने पीछे नहीं देखा। मुखिया के बाद वह भूमि विकास बैंक के चैयरमैन रहे।वही कॉपरेटिव बैंक के वॉयस चेयरमैन रहे। वही उसके बाद 1885 -90 तक विधायक बने।वही दूसरी बार 1990 में जितने के बाद गोबिंदगंज विधानसभा क्षेत्र के प्रथम मंत्री बने। कई सालों तक उनका लालू प्रसाद से जुड़ाव बना रहा। लेकिन हाल के सालों में बीमारी के कारण वह राजनीति से दूर थे।

पूर्व मंत्री की देहांत की खबर सुन जनप्रतिनिधियों ,गण्यमान व शुभचिंतकों की उमड़ी भीड़ ।

Find Us on Facebook

Trending News