गैंगस्टर के लिए काम करना जेल के कक्षपाल को पड़ा महंगा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

गैंगस्टर के लिए काम करना जेल के कक्षपाल को पड़ा महंगा, पुलिस ने किया गिरफ्तार

News4nation desk : जेल के एक कक्षपाल का गैंगस्टर के लिए काम करना महंगा पड़ गया। मामला सामने आने के बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। मामला झारखंड के लातेहार जिले की है। 

लातेहार जेल में पदस्थापित कक्षपाल धर्मेंद्र शाही को रामगढ़ डीएसपी प्रकाश सोय के नेतृत्व में पहुंची पुलिस टीम ने लातेहार पुलिस के सहयोग से गिरफ्तार किया है। पुलिस उसे गिरफ्तार कर रामगढ़ ले गई है। धर्मेंद्र शाही पर गैंगस्टर अमन साहू के लिए काम करने को लेकर मामला दर्ज था। 

जानकारी के अनुसार पिछले तीन वर्षों से धर्मेंद्र अमन साहू के संपर्क में था। उन दोनों के बीच सांठगांठ तब हुई थी, जब वर्ष 2017 में अमन साहू रामगढ़ जेल में बंद था। उस दौरान धर्मेंद्र शाही रामगढ़ जेल में कक्षपाल के रूप में तैनात था। 

जेल में बंद अमन साहू को रंगदारी मांगने के लिए धर्मेंद्र अपने फोन को उपलब्ध कराता था। तत्कालीन एसपी रामगढ़ के द्वारा दो जनवरी 2017 को रामगढ़ जेल में छापेमारी किया था तो अमन साहू के पास से एक मोबाइल बरामद हुआ था। 

जब छानबीन की गई तो पता चला कि उस नंबर से कई व्यवासियों को फोन किया गया था। साथ ही कई ठेकेदारों से भी रंगदारी मांगी गई थी। इसके अलावा कई ट्रांसपोर्टिंग और आउटसोर्सिंग कंपनियों के मालिकों को फोन किया गया था। जांच के दौरान यह बात भी सामने आई कि रामगढ़ जेल में चार कक्षपाल उसकी मदद करते थे, जिसमें धर्मेंद्र का भी नाम शामिल था।

Find Us on Facebook

Trending News