गया डीएम त्यागराजन ने जिले के सभी अंचलाधिकारियों को दिया निर्देश, पंचायत वार कैंप लगाकर जमीन से संबंधित आम जनों की समस्या करें दूर

गया डीएम त्यागराजन ने जिले के सभी अंचलाधिकारियों को दिया निर्देश, पंचायत वार कैंप लगाकर जमीन से संबंधित आम जनों की समस्या करें दूर

गया. जिला पदाधिकारी डॉ. त्यागराजन एसएम ने सभी अंचलाधिकारीयों को निर्देश दिया है कि पंचायत वार कैंप लगाकर जमीन से संबंधित आम जनों की समस्या को दूर करें। दाखिल खारिज, परिमार्जन, भू-लगान एवं ऑनलाइन लगान सुधार संबंधी मामले अंचल स्तर से ससमय निष्पादित नहीं होने के कारण प्रायः डीएम के जनता दरबार में शिकायत प्राप्त होती है।

जमीन से संबंधित मामलों का ससमय निष्पादन नहीं होने के कारण आमजनों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है एवं दूर-राज के इलाके से जिला पदाधिकारी के जनता दरबार में उपस्थित होकर सामान्य मामले के लिए शिकायत आवेदन समर्पित करते हैं, जो अत्यंत ही खेदजनक विषय है।

उन्होंने निर्देश दिया है कि सप्ताह के बुधधार एवं बृहस्पतिवार की स्वयं अंचल अधिकारी, राजस्व अधिकारी एवं सभी राजस्व कर्मचारी अपने आवंटित पंचायत से संबंधित आवेदनों का निष्पादन निर्धारित तिथि को कैम्प में उपस्थित रहकर आम जनता के लंबित कार्यों एवं जनता दरबार में प्राप्त आवेदनों का निष्पादन करना सुनिश्चित करेंगे।यह कैंप 7 दिसंबर एवं 8 दिसंबर तथा अगले सप्ताह 14 दिसंबर  एवं 15 दिसंबर को सभी अंचल के पंचायत सरकार भवन तथा अंचल मुख्यालय में लगाया जाएगा।

गया में स्कूटी रैली का आयोजन

गया अंतराष्ट्रीय महिला हिंसा उन्मूलन पखवाड़ा (25 नवम्बर से 10 दिसम्बर) के दौरान जिला प्रशासन के द्वारा महिलाओं के प्रति हिंसा के उन्मुलन के लिए आमजनों में जागरूकता के उद्देश्य से महिलाओं के द्वारा स्कूटी रैली का आयोजन किया गया, जिसका शुभारंभ गया के जिला पदाधिकारी डॉ० त्यागराजन एसएम ने हरी झंडी दिखाकर किया। रैली में महिला हिंसा उन्मूलन जागरूकता हेतु पांच रथों को भी शामिल किया गया, जो हरी झंडी दिखाने के उपरांत समाहरणालय से निकलकर गया शहरी क्षेत्र में पूरे दिन भ्रमणशील रहकर जागरूकता का कार्य करेंगे।

इस अवसर पर जिला पदाधिकारी द्वारा बताया गया कि महिला एवं बाल विकास निगम के निर्देश पर अंतर्राष्ट्रीय महिला हिंसा उन्मूलन पखवाड़ा के तहत पूरे जिले में कई कार्यक्रम कराए जा रहे हैं एवं इससे संबंधित गतिविधियां कराए जा रहे हैं, जिसका मुख्य उद्देश्य है कि महिलाएं एवं लड़कियां सुरक्षित रहें। इसके लिए जिला प्रशासन लगातार तत्पर हैं और प्रयासरत है।

Find Us on Facebook

Trending News