ई-रिक्शा में बैठकर पूरे शहर में घूमते रहे गया के डीएम त्यागराजन, शहर के लोगों से करने लगे यह खास अपील

ई-रिक्शा में बैठकर पूरे शहर में घूमते रहे गया के डीएम त्यागराजन, शहर के लोगों से करने लगे यह खास अपील

GAYA : गया में दो साल बाद पितृपक्ष मेले का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें लगभग 10 लाख लोगों के आने का अनुमान है। ऐसे में गया में बाहर से आनेवाले लोगों को किसी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े और वह यहां से अच्छी यादें लेकर वापस जाएं, इसको लेकर जिला प्रशासन लगातार प्रयास में जुटा है। खुद जिले के डीएम डा. त्यागराजन ई-रिक्शा में बैठकर शहर में घूम-घूमकर लोगों से सहयोग करने की अपील करते रहे।  जिला पदाधिकारी डॉ त्यागराजन एसएम द्वारा आज स्वयं चांद चौरा से विष्णुपद मेला क्षेत्र से ई-रिक्शा के माध्यम से पहुंचे तथा वापस फिर ई-रिक्शा के माध्यम से ही विष्णुपद से चांद चौरा प्रस्थान किए। 

जिलाधिकारी ने कहा पितृपक्ष मेले में देश विदेश से आने वाले तीर्थयात्रियों से पितृपक्ष मेला अवधि में विष्णुपद मंदिर के परिधि में काफी भीड़ बनी रहती है। तीर्थ यात्रियों को भारी जाम की समस्या से जूझना पड़ता है।  इस वर्ष तीर्थ यात्रियों की सुविधा तथा आम जनों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए विष्णुपद मंदिर के परिधि को नो हॉर्न, नो विकिल ज़ोन तथा नो पॉल्यूशन जोन बनाया गया है। ऐसे में तमाम पदाधिकारियों तथा अति विशिष्ट व्यक्तियों से अपील की जा रही है कि विष्णुपद क्षेत्र को नो पॉल्यूशन जोन एवं नो हॉर्न जोन बनाने में प्रशासन का सहयोग करें

यह है ट्रैफिक व्यवस्था

विष्णुपद मेला क्षेत्र में आने वाले वाहनों को चांद चौरा मोड पर ही रोका जाएगा साथ ही बंगाली आश्रम से विष्णुपद मेला क्षेत्र में आने के लिए बंगाली आश्रम के पास ही वाहन को रोका जाएगा। तमाम पदाधिकारियों तथा आम श्रद्धालुओं को पैदल अथवा जिला प्रशासन द्वारा मुहैया कराए गए पर्याप्त निशुल्क ई -रिक्शा के माध्यम से ही चांद चौरा से विष्णुपद तथा बंगाली आश्रम से विष्णुपद आ जा सकेंगे।   यह व्यवस्था तीर्थ यात्रियों के हित में किया गया है ताकि तीर्थ यात्रियों को किसी भी प्रकार की कोई समस्या का सामना करना ना पड़े। विष्णुपद मंदिर के समीप वाहनों को पूरी तरह प्रतिबंध रखा गया है।

 जिला पदाधिकारी ने उदाहरण प्रस्तुत करते यह बताया कि आप सभी अति विशिष्ट गणमान्य व्यक्ति/ वरीय पदाधिकारी तथा अन्य पदाधिकारी/ व्यक्ति आप सभी तीर्थ यात्रियों के हित में तथा तीर्थयात्रियों को कोई असुविधा ना हो इसे लेकर के विष्णुपद क्षेत्र में ई- रिक्शा के माध्यम से अथवा पैदल आवागमन करे, ताकि विष्णुपद क्षेत्र का परिधि पूरी तरह  नो हॉर्न, नो विकिल ज़ोन तथा नो पॉल्यूशन जोन बना रहे।

Find Us on Facebook

Trending News