गया डीएम ने लिया प्रवासी श्रमिक विश्राम स्थल का जायजा, अधिकारियों को दिए कई निर्देश

गया डीएम ने लिया प्रवासी श्रमिक विश्राम स्थल का जायजा, अधिकारियों को दिए कई निर्देश

GAYA : कोरोना वैश्विक महामारी से बचाव व सुरक्षा के लिए किए गए राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन की वजह से दुसरे राज्यों में काम करने वाले प्रवासी मजदूरों के सामने खाने-पीने और रहने की समस्या हो गयी है. कई कंपनियां भी बंद हो गई और मजदूरों को अपने घर वापस जाने को बोल दिया गया. इसके मद्देनजर मजदूर वापस बिहार आ रहे हैं.  

इसी कड़ी में आज जिलाधिकारी अभिषेक एवं वरीय पुलिस अधीक्षक राजीव मिश्रा के द्वारा एनएच- 2 और एनएच-83 पर आमस, डोभी और बोधगया में प्रवासी मजदूर राहत शिविर में एवं सभी महत्वपूर्ण चेकपोस्ट पर पेयजल, सत्तू, ओआरएस, बिस्कुट, बच्चों के लिए दूध पाउडर की व्यवस्था का जायजा लिया गया. निरीक्षण के क्रम में सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त पायी गयी. डोभी चेकपोस्ट के समीप बनाए गए प्रवासी श्रमिक विश्राम स्थल में उपस्थित श्रमिकों से जिलाधिकारी ने हाल-चाल पूछा. उन्होंने कहा कि किसी भी व्यक्ति को पैदल चलने की आवश्यकता नहीं है. सभी के लिए वाहन उपलब्ध हैं. सुरक्षित वाहनों से उन्हें मगध यूनिवर्सिटी एवं आमस के कॉलेज में ले जाया जाएगा. जहाँ उनकी स्क्रीनिंग की जाएगी. इसके उपरांत उन्हें संबंधित प्रखंडों के कोरेंटिन सेंटर में भेजा जाएगा. क्वॉरेंटाइन सेंटर में सभी के लिए आवासन व खाने की पुख़्ता व्यवस्था की गई है. 

इसके उपरांत जिलाधिकारी ने एस एम एस जी कॉलेज, आमस जो ट्रांजिट प्वाइंट बनाया गया है उसका निरीक्षण किया. ट्रांजिट पॉइंट के नोडल पदाधिकारी अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी शेरघाटी को ट्रांजिट पॉइंट पर उपस्थित रहने का निर्देश दिया गया था. लेकिन निरीक्षण के दौरान वे ट्रांजिट पॉइंट से अनुपस्थित पाए गए. जिलाधिकारी ने अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, शेरघाटी से स्पष्टीकरण पूछते हुए उनका वेतन अवरुद्ध करने का निर्देश दिया. इसके उपरांत उन्होंने ट्रांजिट प्वाइंट में बन रहे खाना का जायजा लिया एवं उन्होंने आवश्यक निर्देश दिए. 

इसके उपरांत उन्होंने उच्च विद्यालय, गुरुआ कोरेंटिन सेंटर में व्यवस्था का जायजा लिया. उन्होंने कोरेंटिन में रह रहे व्यक्तियों से भोजन की क्वालिटी, शौचालय, पेयजल, मच्छरदानी, हैंड वॉश के लिए साबुन एवं अन्य जरूरी चीजों के संबंध में फीडबैक लिया. 

इसके उपरांत आमस प्रखंड अंतर्गत जीटी रोड के समीप एक सरकारी विद्यालय का निरीक्षण किया. उन्होंने प्रखंड विकास पदाधिकारी, आमस को इस कोरेंटिन सेंटर में पर्याप्त व्यवस्थाएं उपलब्ध कराने के निर्देश दिए. 

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News