हैदराबाद नगर निगम चुनाव : औवेसी के गढ़ में खिल रहा है कमल, सभी 150 सीटों पर मतगणना जारी

हैदराबाद नगर निगम चुनाव : औवेसी के गढ़ में खिल रहा है कमल, सभी 150 सीटों पर मतगणना जारी

डेस्क.. ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम चुनाव के नतीजे आ रहे हैं। मतगणना जारी है। औवेसी अपना किला बचा पाएंगे या बीजेपी सेंध लगाएगी, इस पर सबकी निगाह है। जीएचएमसी की 150 सीटों पर 1122 प्रत्याशी मैदान में हैं। बीजेपी ने इस चुनाव के प्रचार में अपने टॉप नेताओं को झोंक दिया था इसलिए काफी इस बार का मुकाबला काफी रोचक माना जा रहा है।

 सुबह 10.15 के रूझानों तक बीजेपी अप्रत्याशित ढंग से आगे चल रही है। अब तक रूझानों पर गौर करें तो सुबह 10.15 बजे तक बीजेपी 77 सीटों पर आगे हैं, जबकि टीआरएस 32 सीटों पर आगे है. वहीं, AIMIM 17 सीटों पर आगे है। कांग्रेस सिर्फ एक सीट पर आगे है। 

हैदराबाद में संपन्न हुए नगर निगम चुनाव की मतगणना जारी है। इसको लेकर व्यवस्थाएं पूरी कर ली गई थीं। मतगणना प्रक्रिया सुबह आठ बजे से शुरू कर दी गई। मतगणना केंद्र 30 स्थानों पर बनाए गए हैं और मतगणना में लगे कर्मियों की कुल संख्या 8,152 है। हर मतगणना प्रक्रिया की वीडियो रिकॉर्डिंग की जाएगी इसके लिए हर मतगणना टेबल पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। चूंकि मतदान के लिए मत पत्रों का उपयोग हुआ था इसलिए परिणाम देर शाम या रात तक ही आने की उम्मीद है।

शुरुआती रुझानों में बीजेपी को बढ़त मिलती दिख रही है। अग बीजेपी यह चुनाव जीतने में सफल होती है तो यह पार्टी के लिए बड़ी उपलब्धि होगी। देश के किसी भी नगर निगम चुनाव को बीजेपी ने पहली बार इतनी आक्रमकता से लड़ा। चुनाव प्रचार के लिए पार्टी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को छोड़ अपनी पूरी फौज उतार दी। चुनाव प्रचार के लिए भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, गृह मंत्री अमित शाह हैदराबाद पहुंचे। इसके अलावा भाजपी ने स्मृति ईरानी, प्रकाश जावड़ेकर, तेजस्वी सूर्या, देवेंद्र फडणवीस सरीखे नेताओं को भी चुनाव प्रचार में उतारा। बीजेपी की तरफ से दिग्गजों के प्रचार में उतरने से चुनाव हाईप्रोफाइल हो गया।  

हैदराबाद नगर निगम की कुल 150 निकाय सीटों के लिए 1 दिसंबर को मतदान हुए और कल यानी चार दिसंबर को नतीजे आएंगे। पिछले चुनाव में भाजपा को सिर्फ चार और ओवैसी की पार्टी एआईएमआईएम को 44 सीटें मिलीं थीं। बीजेपी ने बिहार के प्रभारी भूपेंद्र यादव को हैदराबाद निकाय चुनाव का प्रभारी बनाकर भेजा था। भाजपा यहां अपना जनाधार बढ़ाने के लिए एआईएमआईएम को उसके घर में घेरना चाहती है।  


Find Us on Facebook

Trending News