गोल इंस्टीट्यूट ने लांच किया गोल टैलेंट सर्च एग्जाम, 6ठी से 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्र-छात्रओं के लिए सुनहरा मौका

गोल इंस्टीट्यूट ने लांच किया गोल टैलेंट सर्च एग्जाम, 6ठी से 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले छात्र-छात्रओं के लिए सुनहरा मौका

पटना. बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़ एवं अन्य राज्यों के कई मेधावी छात्र जो दूर-दराज गांवों में अपनी प्रतिभा को खुद में समेटे किसी अवसर की तलाश में रहते हैं, उनके लिए आशा की किरण के रूप में आती है ‘गोल प्रतिभा खोज परीक्षा’। छठी, सातवीं, आठवीं, नवमी, दशमी, ग्यारहवीं और बारहवीं कक्षा में पढ़ाई कर रहे छात्र-छात्राएं, स्वर्णिम भविष्य का अवसर प्रदान कर रहे गोल टैलेंट सर्च एग्जाम द्वारा छात्र अपने प्रतिभा को निखार कर सफलता की बुलंदियों को छू सकते हैं। विगत 11 वर्षों से बिहार, झारखण्ड, उड़ीसा, वेस्ट बंगाल एवं छत्तीसगढ़ में आयोजित की जाने वाली इस प्रतियोगिता परीक्षा के द्वारा अब तक सैंकड़ों छात्रों ने मेडिकल एवं आईआईटी जैसे प्रतियोगिता परीक्षाओं में महत्वपूर्ण सफलता पाकर गोल टैलेंट सर्च एग्जाम की उपयोगिता को साबित किया है।

गोल टैलेंट सर्च एग्जाम के मकसद को बताते हुए गोल इन्स्टीट्यूट के फाउण्डर एवं मैनेजिंग डायरेक्टर विपीन सिंह कहते हैं कि सामाजिक दायित्व के तहत छात्रें को प्रतियोगिता से संबंधित पहले से ही जागरूकता लाने के लिए हमलोगों ने गोल टैलेंट सर्च एग्जाम की शुरूआत की है और हमें खुशी है कि प्रत्येक वर्ष हजारों छात्र इसका लाभ ले रहे हैं। विपिन सिंह ने कहा कि शारीरिक रूप से अक्षम (दिव्यांग) छात्रों को हमारा संस्थान मेडिकल एवं इंजीनियरिंग की तैयारी के लिए बिल्कुल मुफ्त शिक्षा प्रदान करेगा।

गोल इंस्टीच्यूट के असिस्टेंट डायरेक्टर रंजय सिंह के अनुसार गोल टैलेंट सर्च एग्जाम दो चरणों में आयोजित किया जाएगा। प्रथम चरण में प्री एग्जाम ऑनलाइन लिया जाएगा, जिससे छात्र अपने सुविधानुसार मोबाइल एवं लैपटॉप से अपने घरों से दे सकते हैं। प्रथम चरण की परीक्षा 27 नवम्बर को आयोजित की जाएगी। प्रथम चरण परीक्षा के रिजल्ट में चयनित छात्रों को द्वितीय चरण (मुख्य परीक्षा) में भाग लेने का मौका मिलेगा। मुख्य परीक्षा ऑफलाइन लिया जाएगा, जिसका आयोजन जोन मुख्यालय पटना, गया, मुजफ्रफरपुर, दरभंगा, भागलपुर, पूर्णियां, रांची, धनबाद, जमशेदपुर, देवघर, डाल्टेनगंज, रायपुर, भिलाई, उड़ीसा एवं वेस्ट बंगाल के विभिन्न शहरों में आयोजित किया जाएगा।

गोल संस्थान के गौरव कुमार सिंह ने कहा कि गोल टैलेंट सर्च परीक्षा छात्रों को एक कॉम्पीटीटीव प्लैटफॉर्म मुहैया कराता है, जहां छात्र अपने मैरीट को हजारों छात्रों के बीच जांच कर उसे इम्प्रूव करने का प्रयास करते हैं, जिसके माध्यम से उन्हें प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता प्राप्त होती है।


इस परीक्षा के द्वारा छात्र अपनी प्रतिभा को जांचकर एवं अपने गलतियों को पहचान कर आने वाली प्रतियोगिता के लिए अपने गलतियों में सुधार लाकर सफलता के मार्ग को प्रशस्त कर सकते हैं। इस प्रतियोगिता परीक्षा में चयनित छात्रें को लैपटॉप, किंडल, टैब एवं कई अन्य पुरस्कारों के साथ-साथ गोल इन्स्टीट्यूट के क्लासरूम कोर्स में 100 प्रतिशत तक की स्कॉलरशिप, हॉस्टल की सुविधा एवं अन्य सारी सुविधाएं बिना किसी शुल्क लिए उपलब्ध कराई जाएगी।

परीक्षा के बाद आयोजित की जाने वाली सेमीनार छात्रें के लिए मेडिकल, इंजिनियरिंग एवं कई अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं से संबंधित जानकारी देने के साथ-साथ समुचित दिशा-निर्देश देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इस सेमिनार में गोल इन्स्टीट्यूट के एक्सपर्ट्स छात्रों को महत्वपूर्ण जानकारी एवं मार्गदर्शन देते हैं।

  • फार्म ऑनलाइन www.gtse.in पर भरा जा सकता है।
  • फार्म ऑफलाइन : गोल इन्स्टीट्यूट के किसी भी ऑफिस में उपलब्ध आवेदन शुल्क 200/- रुपये हैं।
  • Pre Exam : 27 नवम्बर (ऑनलाइन)- छात्र अपने सुविधानुसार मोबाइल एवं लैपटॉप से दे सकते हैं।
  • Main Exam : 11 दिसम्बर मुख्य परीक्षा (ऑफलाइन) जोन हेडक्वार्टर में पटना, गया, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, पूर्णियां, भागलपुर, रांची, धनबाद, देवघर, जमशेदपुर, डाल्टेनगंज, भीलाई, रायपुर, पश्चिम बंगाल एवं उड़ीसा में परीक्षा में साइंस, मैथ्स एवं आईक्यू बेस्ड प्रश्न पूछे जाएंगे।

Find Us on Facebook

Trending News