GREEN-CLEAN BIHAR: परिवहन विभाग का फैसला, दिसंबर 2021 तक सूबे में कार्यरत होंगे 38 CNG स्टेशन, पटना में भी बढ़ेगी संख्या

GREEN-CLEAN BIHAR: परिवहन विभाग का फैसला, दिसंबर 2021 तक सूबे में कार्यरत होंगे 38 CNG स्टेशन, पटना में भी बढ़ेगी संख्या

PATNA: बिहार के विभिन्न जिलों में सीएनजी स्टेशन की स्थापना एवं सीएनजी पाइप लाइन विस्तार को लेकर परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने गेल, आईओसीएल, थिंक गैस, आईओएजीपीएल कंपनियों के साथ समीक्षा बैठक की। बैठक में यह फैसला लिया गया कि अगले दो माह में दिसंबर तक औरंगाबाद, कैमूर, मुजफ्फरपुर आदि जिलों में 21 नए सीएनजी स्टेशन खुलेंगे। इनमें औरंगाबाद-1, कैमूर-1, रोहतास-3, भोजपुर-2, जहानाबाद-2, समस्तीपुर-3, वैशाली-2, सारण-1, मुजफ्फरपुर-1, बेगूसराय-2, गया-3 स्टेशन शामिल हैं।

वहीं पटना में सीएनजी स्टेशन की कुल संख्या बढ़कर 18 हो जाएगी। वर्तमान में पटना में 12 सीएनजी स्टेशन कार्यरत हैं। इसके अलावा बेगूसराय में दो, रोहतास, गया और नालंदा में एक-एक सीएनजी स्टेशन कार्यरत है। परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल ने सभी संबंधित कंपनियों को निर्देश दिया कि प्रमुख शहरों में नए सीएनजी स्टेशन खोलने की कार्रवाई करें, ताकि सीएनजी चालित वाहनों को आसानी से सीएनजी उपलब्ध कराया जा सके। परिवहन सचिव के समक्ष सभी कंपनी के प्रतिनिधियों द्वारा सीएनजी स्टेशन के प्रगति एवं भविष्य की योजनाओं को प्रस्तुत किया गया।  सीएनजी स्टेशन के अधिष्ठापन हेतु 4 विभिन्न कंपनियों द्वारा जिलों में कार्य चल रहा है। सारण, वैशाली, समस्तीपुर, जहानाबाद, भोजपुर, रोहतास, कैमूर, औरंगाबाद, मुजफ्फरपुर, बेगुसराय और गया में दिसंबर माह तक सीएनजी स्टेशन खोलने की कार्रवाई की जाएगी। परिवहन सचिव ने निर्देश दिया कि नए सीएनजी स्टेशन खोलने के साथ पाइप लाइन विस्तार में भी तेजी लाएं। 

परिवहन सचिव ने बताया कि अब गुड्स व्हीकल को भी सीएनजी के लिए प्रमोट किया जाएगा। इसके लिए हाइवे पर सीएनजी स्टेशन की प्लानिंग की जा रही है। कंपनी के प्रतिनिधियों द्वारा बताया गया कि सीएनजी का रेट पेट्रोल/डीजल की तुलना में काफी कम है। यह पेट्रोल/डीजल से 40 प्रतिशत सस्ता है। बिहार में दिनों दिन सीएनजी वाहनों की संख्या में वृद्धि हो रही है। लगभग 10 हजार से अधिक सीएनजी वाहनों का परिचालन किया जा रहा है। लोगों में सीएनजी वाहनों के प्रति रुझान बढ़ रहा है। इसे देखते हुए जिलों में सीएनजी स्टेशन का नेटवर्क बढ़ाने की कार्रवाई की जा रही है।

समीक्षा बैठक में परिवहन सचिव के साथ राज्य परिवहन आयुक्त सीमा त्रिपाठी, अपर सचिव सन्नी सिन्हा, संयुक्त सचिव पंकज कुमार, उपसचिव शैलेंद्रनाथ, विशेष कार्य पदाधिकारी आजीव वत्सराज और गेल, आईओसीएल, थिंक गैस, आईओएजीपीएल के पदाधिकारी आदि उपस्थित थे।


Find Us on Facebook

Trending News