नगर निकाय चुनाव में परिजनों को नहीं जीता पाए 'माननीय', मंत्री की माँ और बीजेपी सांसद की पत्नी को मिली करारी हार

नगर निकाय चुनाव में परिजनों को नहीं जीता पाए 'माननीय', मंत्री की माँ और बीजेपी सांसद की पत्नी को मिली करारी हार

N4N DESK : आज राज्य के 156 नगर निकायों में हुए चुनाव के बाद मतगणना का कार्य जारी है। इसमें जीत हासिल करनेवाले उम्मीदवारों में जहाँ ख़ुशी का माहौल है। वहीँ हारने वाले प्रत्याशियों में निराशा देखी जा रही है। सबसे आश्चर्यजनक बात यह है की राज्य के कई माननीय अपने भाई, बंधू और रिश्तेदारों को चुनाव नहीं जीता सके हैं। इस चुनाव में उन्हें करारी हार का सामना करना पड़ा है। 


सूबे के श्रम संसाधन मंत्री सुरेन्द्र राम की माता श्री को दिघवारा नगर पंचायत के वार्ड आयुक्त के चुनाव में करारी हार का सामना करना पड़ा है। वहीँ जदयू एमएलसी भीष्म सहनी का परिवार इस चुनाव में हार गया। बगहा में भीष्म सहनी की पत्नी और बहू तीसरे नंबर पर रहीं। जबकि भाजपा के सांसद की पत्नी अपनी ही चचेरी एमबीए पास बहू से हार गईं है।

मुजफ्फरपुर से भाजपा सांसद अजय निषाद की पत्नी रमा निषाद को हार का मुंह देखना पड़ा है। उन्हें उनकी ही चचेरी बहू ने चुनाव हरा दिया। बहू ज्योत्सना कुमारी पहली बार चुनाव लड़ रही थी और कांटे की टक्कर में 53 वोट से हरा दिया। 

वार्ड नंबर एक से चुनाव लड़ रही रमा निषाद पूर्व में भी नगर परिषद की सभापति रह चुकी हैं। ज्योत्सना कुमारी एलएन मिश्रा पटना से एमबीए कर चुकी हैं और जदयू से 2014 में वैशाली से लोकसभा चुनाव लड़ चुके विजय सहनी की बहू हैं।


Find Us on Facebook

Trending News