मोतिहारी में जमीन विवाद में दो पक्षों में जमकर हुई मारपीट, इलाज के दौरान एक की मौत, कई गंभीर घायल

मोतिहारी में जमीन विवाद में दो पक्षों में जमकर हुई मारपीट, इलाज के दौरान एक की मौत, कई गंभीर घायल

मोतिहारी. पकड़ीदयाल थाना क्षेत्र में दो पट्टीदारों के बीच जमीन विवाद बुधवार की रात हिंसक झड़प का रूप ले लिया। दोनों पट्टीदारों के बीच मारपीट में एक जख्मी व्यक्ति की मौत इलाज के दौरान हो गई है। इस मारपीट में कई लोग जख्मी हो गये। जिनका इलाज निजी क्लीनिक व सदर अस्पताल में चल रहा है।

दो पट्टीदारों के बीच तीन बीघा जमीन को लेकर विवाद चल रहा है। जनकारी के अनुसार मृतक कृष्णनंदन सिंह और नगीना सिंह के बीच हिस्सेदारी के तीन बिगहा जमीन को लेकर पूर्व से विवाद चल रहा था। जिसे दो दिन पूर्व एक पक्ष के द्वारा विवादित जमीन को जोत लिया गया। इसको लेकर दोनों पट्टीदार में तनाव चल रहा था। बुधवार की रात्रि एक पट्टीदार द्वारा प्लान बनाकर लाठी, डंडा, रॉड, फरसा से हमला कर दिया गया। जिसमें कई लोग जख्मी हो गए। जिसमें इलाज के दौरान एक की मौत हो गयी। वहीं बाकी का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है।

मृतक की पहचान कृष्णनंदन सिंह के रूप में कई गयी है। पकड़ीदयाल थाना पुलिस त्वरित घटना स्थल पर पहुच कार्रवाई में जुट गई है। मृतक कृष्णनंदन सिंह के भतीजे मुन्ना सिंह के अनुसार उसके पिता राम अयोध्या सिंह घर के दरवाजे पर बैठे थे। उसके चाचा सोये हुए थे। उसी समय उनके पट्टीदार नगीना सिंह अपने परिवार के अन्य सदस्यों के साथ लाठी, फट्ठा, लोहे का रॉड, फरसा और अन्य हथियार लेकर उसके घर के पास आये। घर पर आने के बाद नगीना सिंह के परिवार के लोगों ने घर में घुसकर सारे लोगों को मारने लगे।

मारपीट के बाद जख्मी लोगों को लेकर आसपास के लोगों के साथ मोतिहारी अस्पताल में इलाज कराने गए। यहां इलाज के दौरान ही कृष्णनंदन सिंह की मौत हो गई। वहीं राम अयोध्या सिंह की स्थिति गंभीर बनी हुई है। मुन्ना ने बताया कि उसके बाबा राजेंद्र प्रसाद सिंह और उनके भाई बाला सिंह में वर्षों पूर्व जमीन का बंटवारा हो चुका था। उसके पिता राम अयोध्या सिंह और चाचा कृष्णनंदन सिंह के बीच कोई विवाद नहीं है। उसने यह भी बताया कि नगीना सिंह उसके पिता के चचेरे भाई हैं, जो जबरन तीन बीघा जमीन पर कब्जा करके उसमें खेत जोत लेते हैं। इसके विरोध करने पर हमेशा नगीना सिंह का परिवार मारपीट करता है।

मुन्ना ने बताया कि दो दिनों पहले जमीन को जबरदस्ती नगीना सिंह ने जोत लिया है। खेत जोतने के बाद जब हमारे घर के लोगों ने विरोध किया तो उनलोगों ने फिर घर में घुसकर मारपीट की। इसी मारपीट की घटना में चाचा की मौत हो गई। वहीं सूचना मिलते ही पकड़ीदयाल डीएसपी सहित थाना पुलिस पहुच करवाई में जुट गई। पुलिस ने त्वरित करवाई करते हुए तीन चार लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। वहीं पुलिस अग्रतर करवाई में जुटी है।

Find Us on Facebook

Trending News