शादी समारोह में पुलिस ने पार की सारी हदें, शराब जांच के नाम पर दुल्हन सहित महिलाओं के कमरे में घुसे, साथ में नहीं थी कोई महिला पुलिस

शादी समारोह में पुलिस ने पार की सारी हदें, शराब जांच के नाम पर दुल्हन सहित महिलाओं के कमरे में घुसे, साथ में नहीं थी कोई महिला पुलिस

PATNA : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराबबंदी को लेकर पुलिस को सख्ती बरतने के लिए कहा तो अब पटना पुलिस उसका गलत तरीके से इस्तेमाल करने लगी है। इसका बड़ा तब देखने को मिला, जब पटना पुलिस एक शादी समारोह में शराब ढूंढती हुई पहुंच गई। इस दौरान पुलिस ने परिसर के चप्पे चप्पे की तलाशी ली। हद तो तब हो गई जब जांच करते करते पुलिसवाले दुल्हन के कमरे में भी घुस गए और वहां भी तलाशी शुरू कर दी। इस दौरान कई सारे कीमती गहने सहित कमरे में बिखरा पड़ा था और कमरे में दूसरी महिलाएं भी मौजूद थी. चौंकानेवाली बात यह कि महिलाओं के कमरे की तलाशी ली जाती रही,लेकिन साथ में कोई महिला पुलिसकर्मी नजर नहीं आ रहा था। जब तक पुलिसवाले वहां मौजूद रहे, तब तक वर-वधू दोनों पक्ष के लोगों में टेंशन साफ देखी जा रही थी


शादी समारोह के दौरान तलाशी का यह मामला राजीव नगर थाना क्षेत्र का है, जहां जहां शराब ढूँढने के नाम पर पुलिस ने शादी वाले समारोह स्थल में छापा मारा हालांकि पुलिस को यहां से कुछ नही मिला दरअसल पुलिस शराब के छापेमारी में ये तक भूल गई कि इससे किसी के शादी समारोह में ख़लल पड़ सकता है। पुलिसवाले हर कमरे में जाकर बैग और अलमारी की तलाशी करते रहे। वहीं कमरे में मौजूद अचानक पुलिसवालों को देखकर टेंशन में आ गई। 

रात में बिना महिला पुलिस के ली तलाशी

रात का समय, शादी समारोह, जहां बड़ी संख्या में महिलाएं मौजूद होती है। इन सबके बावजूद पटना की पुलिस शराब पकड़ने को लेकर इस तरह पागल हो गई है कि महिलाओं के कमरे की तलाशी के दौरान कम से कम एक महिला पुलिस का होना जरुरी है। यहां तक कि दुल्हन के कमरे को भी नहीं छोड़ा। वीडियो में देखा जा सकता है कि किस तरह पुलिसकर्मी बिना महिला पुलिस के ही नई नवेली दुल्हन के कमरे में घुस कर एक एक जगह की तलाशी ले रही है, हालांकि पुलिस को इस छापेमारी में कुछ भी हाथ नहीं लगा। सवाल ये है की क्या पुलिस शराब ढूँढने के चक्कर में किसी के नीजता का भी ख़याल रखना जरुरी नहीं समझ रही है।

बिहार में शराबबंदी को लेकर पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है, लेकिन इसके साथ ही उन्हें इस बात का भी ख्याल रखना होगा कि उनकी कार्रवाई से आम लोगों को किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़े। अगर महिलाओं के कमरे की तलाशी के दौरान किसी ने आपत्ती जता दी होती तो पुलिस की इज्जत वहीं उतरनी तय थी।

इस वायरल वीडियो के सत्यता की पुष्टि न्यूज 4 नेशन नही करता है ।

अनिल की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News