Independence Day Special : आपके दिल को छू लेंगे ये 6 देशभक्ति गीत

Independence Day Special : आपके दिल को छू लेंगे ये 6 देशभक्ति गीत

न्यूज़ 4नेशन डेस्क : 15 अगस्त यानि हमारी स्वतंत्रता का दिन. आज हम महफूज हैं, खुली हवा में साँस ले रहे हैं तो इसका श्रेय उन शहीदों को जाता है जिन्होंने देश की खातिर अपनी जान की भी परवाह नहीं की. हालांकि उन्हें याद करने के लिए किसी खास दिन की तो जरुरत नहीं है पर स्वतंत्रता दिवस नजदीक हो और हम उन्हें याद न करें ये कैसे हो सकता है. जब हमारे देश के प्रधानमंत्री लाल किले की प्राचीर से तिरंगा फहराते हैं और जब हमारी सेना परेड करती है तो हर भातीय का सर गर्व से ऊंचा हो जाता है. 

'आजादी' बॉलीवुड का ऐसा टॉपिक है, जिसे लेकर ढेरों फिल्में बनीं और गाने भी रचे गए. आज हम देशभक्ति के उन गानों की लिस्ट लाए हैं जिन्हें सुनकर आपकी आंखे नम हो जाएंगी। सिर्फ यही नहीं यह गाने हर भारतीय के दिल में बसता है और यह गाने सुन हम भारतीय होने पर गर्व महसूस करते हैं और देशभक्ति का जज्बा जाग उठता है. 

1- दूर हटो ऐ दुनिया वालों हिन्दुस्तान हमारा है (क़िस्मत, 1943)

संगीतकार: अनिल विश्वास

गीतकार: कवि प्रदीप

गायन: अमीरबाई कर्नाटकी एवं साथी


यह गीत आजादी के ठीक पांच साल पहले आया था और यह पहला ऐसा सार्वजनिक क्रान्तिकारी गीत था जिसने ब्रिटिश हुकूमत की नींदें हराम कर दी थीं.  इस गीत ने व्यापक जन-समुदाय को अपनी गिरफ्त में ले लिया था. 


2.  कर चले हम फिदा जान-ओ-तन साथियों (हकीकत, 1964)

संगीतकार: मदन मोहन

गीतकार: कैफी आजमी

गायन: मो. रफी एवं साथी


यह गीत उस समय आया था जब भारत-चीन के बीच हुए युद्ध के बाद पूरा देश दुःखी था. उस दौरान भातीय लोगों के दुःख और त्रासदी को देख शायर कैफी आजमी साहब ने यह गीत रचा था. 

3.  ऐ मेरे वतन के लोगों

संगीतकार:सी॰ रामचंद्र

गीतकार: कवि प्रदीप 

गायन:  लता मंगेशकर 


देशभक्ति के गानों में लता मंगेशकर के गाए गाने 'ऐ मेरे वतन के लोगों' को सुनकर हर भारतीय की आंखे नम हो जाती है.  फिल्म 'कर्मा'  का यह गाना हमें देश की रक्षा में खुद को कुर्बान कर देने वाले शहीदों की याद दिलाता है.


4. संदेशे आते हैं...

संगीतकार:अनु मलिक 

गीतकार: जावेद अख्तर

गायन: सोनू निगम, रूप कुमार राठौर  


फिल्म 'बॉर्डर' का गाना 'संदेशे आते हैं' को सुनकर आज भी हर भारतीय गौरान्वित महसूस करता है. इस गाने में यह दिखाया गया है कि हमारे फौजी कितना भी कष्ट कर लें देश की रक्षा में बॉर्डर पर तत्परता से खड़ा रहते हैं. उनके लिए भारत मां की रक्षा सर्वोपरि है. 

5.  मेरा रंग दे बसन्ती चोला (शहीद, 1965)

संगीतकार: प्रेम धवन

गीतकार: प्रेम धवन

गायन: मुकेश, महेन्द्र कपूर एवं राजेन्द्र मेहता


यह गीत ऐतिहासिक फ़िल्म ‘शहीद’ में भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु के क्रान्तिकारी बलिदान को आधार बनाकर रचा गया है. आज भी यह गीत सुनकर रूलाई आती है और देशभक्ति के अनूठे जज़्बे से भीतर तक भिगो डालती है. 

6. ऐ वतन, मेरे वतन.. (राज़ी , 2018 )

संगीतकार: शंकर एहसान लॉय 

गीतकार: गुलज़ार 

गायन: अरजित सिंह, सुनिधि चौहान 


यह गीत फिल्म 2018 में बनी फिल्म राज़ी में ली गई है. इस फ़िल्म में एक भारतीय जासूस पर आधारित है जो अपनी देश के खातिर अपनी बेटी की शादी पाकिस्तान में करता है 


Find Us on Facebook

Trending News