Budget 2019 Live : वित्त मंत्री पेश कर रही हैं देश का बही खाता...जानिए हर अपडेट

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण लोकसभा में देश का बही खाता पेश कर रही हैं.....यहां जानिए बजट से जुड़ी सभी अपडेट

लाइव अपडेट्स: 

  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में आने वाले दशक का लक्ष्य देश के सामने रखा. उन्होंने कहा कि अगले कुछ वर्षों में हमारी अर्थव्यवस्था 5 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंच जाएगी.
  • निर्मला सीतारमण ने कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है. हमारी सरकार ने कई नई योजनाओं को अमलीजामा पहनाया है.


  • निर्मला सीतारमण ने कहा कि भारत आज रोजगार देने वाला देश बना है. हमारा जोर अब इंफ्रास्ट्रक्चर को बढ़ाने पर है. भारतमाला के जरिए हम देश में सड़क हर गांव तक पहुंचा रहे हैं.
  • वित्त मंत्री ने कहा कि हमारा लक्ष्य लोगों के घरों में शौचालय पहुंचाना, घरों में बिजली पहुंचाना था. उन्होंने अपनी कई योजनाओं का जिक्र किया, जिसमें मुद्रा योजना
  • निर्मला सीतारमण ने बजट भाषण के दौरान एक शेर भी पढ़ा. निर्मला ने कहा, 'यक़ीन हो तो कोई रास्ता निकलता है, हवा की ओट भी लेकर चराग़ जलता है'. ये शेर मशहूर शायर मंजूर हाशमी का है.
  • वित्त मंत्री ने कहा कि हम मेक इन इंडिया के जरिए स्वदेशी की तरफ बढ़ रहे हैं. हमारी सरकार देश को आधुनिक भी बना रही है, जिसमें 657 किमी. मेट्रो को चालू किया गया


  • वित्त मंत्री ने कहा कि हमारा लक्ष्य रिफॉर्म, परफॉर्म और ट्रांसफॉर्म का है. अगला बड़ा लक्ष्य जल रास्ते को बढ़ावा देना है. वन नेशन, वन ग्रिड के लिए हम आगे बढ़ रहे हैं.
  • उन्होंने कहा कि सरकार रेलवे में निजी भागेदारी बढ़ाने पर जोर दे रही है. रेलवे के विकास के लिए PPP मॉडल को लागू किया जाएगा. रेल ढांचे में विकास के लिए 50 लाख करोड़ रुपये के निवेश की जरूरत है


हम एक देश एक ग्रिड के जरिए सभी राज्यों को सस्ती बिजली पहुंचाएंगे। इससे हर राज्य को सही दाम पर हर वक्त बिजली मिल सकेगी। छोटे और मझोले उद्योगों के लिए 59 मिनट में लोन को मंजूरी दी जाएगी। निर्मला सीतारमण बोली, पानी और गैस के लिए भी एक राष्ट्रीय ग्रिड बनेगा

हमारी सरकार ने पानी के लिए जलशक्ति मंत्रालय का गठन किया है. जल आपूर्ति के लक्ष्य को लागू किया जा रहा है, 1500 ब्लॉक की पहचान की गई है. इसके जरिए हर घर तक पानी पहुंचाया जाएगा. सरकार का लक्ष्य 2024 तक हर घर जल पहुंचाने का लक्ष्य है.

वित्त मंत्री ने ऐलान किया कि 2014 के बाद 9.6 करोड़ शौचालय का निर्माण किया गया है. 5.6 लाख गांव आज देश में खुले से शौच से मुक्त हो गए हैं. स्वच्छ भारत मिशन के विस्तार के लिए सरकार प्रतिबद्ध है. अभी तक 2 करोड़ लोगों को डिजिटल रूप से साक्षर बनाया गया है. ग्रामीण-शहरी अंतर को पाटने के लिए सरकार डिजिटल क्षेत्र को बढ़ावा दे रही है.

वित्त मंत्री ने कहा कि अभी तक 26 लाख घरों का निर्माण पूरा हो चुका है, 24 लाख को घर दिया जा चुका है. हमारा लक्ष्य 2022 तक हर किसी को घर देने का है. 95 फीसदी से अधिक शहरों को ODF घोषित किया गया है. आज एक करोड़ लोगों के फोन में स्वच्छ भारत ऐप है. देश में 1.95 करोड़ घर देने का लक्ष्य है.

सरकार की ओर से ऐलान किया गया है कि हम नई शिक्षा नीति लाएंगे. शिक्षा नीति पर अनुसंधान केंद्र भी बनाया जाएगा. राष्ट्रीय अनुसंधान प्रतिष्ठान (National Research Foundation) बनाने का ऐलान किया गया. आदर्श किराया कानून भी बनाया जाएगा.  सरकार उच्च शिक्षा के लिए 400 करोड़ रुपये खर्च करेगी. दुनिया के टॉप 200 कॉलेज में भारत के सिर्फ 3 कॉलेज हैं, ऐसे में सरकार इन संख्या को बढ़ाने पर जोर देगी. पांच साल पहले इस लिस्ट में एक भी भारतीय कॉलेज का नाम नहीं था.

राजघाट पर राष्ट्रीय स्वच्छता केंद्र बनाया जाएगा. साथ ही खेलो भारत योजना का ऐलान किया जाएगा. हमारा लक्ष्य ऑनलाइन कोर्स को बढ़ावा देने पर है. देश में 'अध्ययन' कार्यक्रम की शुरुआत की जाएगी, इसके तहत विदेशी छात्रों को भारत में बुलाया जाएगा. उच्च शिक्षा के लिए अलग से कानून का मसौदा पेश किया जाएगा. राष्ट्रीय खेल शिक्षा बोर्ड का भी निर्माण किया जाएगा.

वित्त मंत्री ने ऐलान किया कि स्टैंड अप इंडिया स्कीम के तहत महिलाओं, ST-ST उद्यमियों को लाभ दिया जाएगा. स्टार्ट अप के लिए टीवी चैनल पर प्रोग्राम शुरू किए जाएंगे. वित्त मंत्री ने बताया कि अगले पांच साल में 125000 किमी. सड़क बनाई जाएगी, इसके लिए 80 हजार 250 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे.

Find Us on Facebook

Trending News