IPL का पहला प्लेऑफ : 14 साल बाद फाइनल में जगह बनाने के इरादे से उतरेगी राजस्थान रॉयल्स, हार्दिक की गुजरात टाइटंस देंगे चुनौती

IPL का पहला प्लेऑफ : 14 साल बाद फाइनल में जगह बनाने के इरादे से उतरेगी राजस्थान रॉयल्स, हार्दिक की गुजरात टाइटंस देंगे चुनौती

DESK : IPL को 15वां सीजन अपने अंतिम पड़ाव पर पहुंच गया है। आज लीग के पहला प्लेऑफ मैच खेला जाएगा। जिसमें यह तय होगा कि फाइनल में पहुंचनेवाली पहली टीम कौन होगी। प्लेऑफ में आमने सामने होगी राजस्थान रॉयल्स और गुजरात टाइटंस। जहां कप्तान संजु सैमसन की टीम 2008 का इतिहास दोहरा कर पहले आईपीएल के विजेता कप्तान शेनवार्न को श्रद्धाजंली देने के लिए फाइनल में पहुंचने के लिए तमाम जोर आजमाइश करेगी। वहीं दूसरी तरफ लीग में पहली बार खेलने उतरी हार्दिक पांड्या की गुजरात टाइंटस यह साबित करने के लिए मैदान में उतरेगी कि लीग में उसका टॉप पर आना तुक्का नहीं है। 

ऐतिहासिक ईडन गार्डन पर होगा मैच 

मंगलवार को ऐतिहासिक ईडन गार्डेंस स्टेडियम में होने वाले क्वालीफायर-1 में जब दोनों टीमें जोरआजमाइश करने उतरेंगी तो उनकी नजर कोलकाता से ही अहमदाबाद में होने वाले फाइनल मैच का टिकट कटाने पर होगी। ईडन भी तीन साल बाद आइपीएल के दो महा मुकाबलों के आयोजन के लिए तैयार है।

हारने पर भी मिलेगा दूसरा मौका

गुजरात और राजस्थान के लिए राहत की बात यह है कि नाकआउट राउंड का पहला मुकाबला हारने पर भी उन्हें दूसरा मौका मिलेगा। आज के मैच में हारनेवाली टीम का मुकाबला एलिमिनेटर मैच के विजेता से होगा। उनमें विजेता टीम फाइनल में अपनी जगह पक्की करेगी। अहमदाबाद के नरेन्द्र मोदी स्टेडियम में 27 मई को होने वाले कवालीफायर-2 के जरिये वे 29 मई को उसी ग्राउंड में होने वाले फाइनल में पहुंच सकती हैं।

गुजरात ने किया है प्रभावित, संतुलित टीम

-राजस्थान में से किसी को कमतर आंकना सही नहीं होगा। दोनों टीमें लीग राउंड में शानदार प्रदर्शन कर आराम से प्लेआफ में पहुंची हैं। हार्दिक पांड्या की कप्तानी में गुजरात ने जहां लीग राउंड के 14 में से 10 मैच जीते तो राजस्थान ने भी नौ में जीत दर्ज की। गुजरात के पक्ष में एक बात जरूर है कि उसने लीग राउंड में राजस्थान को 37 रन से हराया था। इस लिहाज से वह मनोवैज्ञानिक तौर पर एक कदम आगे है। वहीं टीम भी काफी संतुलित नजर आ रही है।

डार्क हार्स साबित हुई है राजस्थान रॉयल्स

राजस्थान रॉयल्स सीजन वन के बाद पहली बार एक मजबूत टीम नजर आ रही है। उसने अपने खेल से सभी विरोधी टीमों को चौंकाया है। आर अश्विन को फर्स्ट टाउन बैटिंग करने भेजने की उसकी रणनीति पर लगातार सवाल उठे। हालांकि, मैनेजमेंट अपने निर्णय पर कायम रहा। परिणाम हुआ कि चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ 23 गेंदों पर नाबाद 40 रन बनाकर अश्विन ने अपनी टीम को जीत दिला दी। टीम ने अपने प्रदर्शन से तमाम कयासों को दरकिनार कर दिया है।

Find Us on Facebook

Trending News