आईपीएस विनय तिवारी के मुक्त करने पर बोले डीजीपी, कहा- थैंक यू बीएमसी

आईपीएस विनय तिवारी के मुक्त करने पर बोले डीजीपी, कहा- थैंक यू बीएमसी

Patna: बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच सीबीआई के  हाथ में आ गई है. इसके बाद ही बिहार से मुंबई गए पटना के सिटी एसपी विनय तिवारी को बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉरपोरेशन ने क्वॉरंटाइन से रिलीज कर दिया है. इसके बाद बिहार के डीजीपी ने बीएमसी  को थैंक्यू बोला है.

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि माननीय सर्वोच्च न्यायालय की टिप्पणी के बाद बिहार के पुलिस मुख्यालय ने BMC के आयुक्त को दुबारा पत्र लिखकर अपने IPS अधिकारी विनय तिवारी को मुक्त करने के लिए कल अनुरोध किया था जिसे स्वीकार करते हुए विनय को मुक्त किया गया है.वे आज शाम को पटना लौट रहे हैं.BMC को धन्यवाद.

आरोप बिहार पुलिस एसोसिएशन के अध्यक्ष ने आरोप लगाया था कि सुंशात केस की जांच करने मुंबई पहुंचे बिहार के आईपीएस अधिकारी विनय तिवारी को IPS हॉस्टल में रुकने की जगह नहीं दी गई थी. उन्होंने जब अपने रहने की व्यवस्था की तो उनसे उनका ठिकाना पूछा गया. पता मिलते ही बीएमसी ने विनय तिवारी को कोरोना के डर से क्वॉरंटाइन कर दिया गया. उन्होंने कहा कि कानून के साथ वर्दी पर प्रतिबंध उचित नहीं है. देश की वर्दी एक है जो कानून की रक्षा जनता की सुरक्षा और न्याय का प्रतीक है. बिहार पुलिस ने कहा कि हमारे अधिकारी के हाथ पर क्वॉरंटाइन की मुहर लगाई गई.

बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या में सीबीआई और ईडी ने अपनी जांच तेज कर दी है. गुरुवार को सीबीआई ने सुशांत सिंह राजपूत केस में एफआईआर दर्ज कर ली. सीबीआई ने इस मामले में रिया चक्रवर्ती समेत 6 लोगों को आरोपी बनाया है.


Find Us on Facebook

Trending News