जनप्रतिनिधियों ने नहीं निभाया वादा तो खुद चंदा जुटा लोग कर रहे सड़क की मरम्मत

जनप्रतिनिधियों ने नहीं निभाया वादा तो खुद चंदा जुटा लोग कर रहे सड़क की मरम्मत

DESK: सदर प्रखंड के कटारी गांव के ग्रामीणों ने जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा से आहत होकर खुद चंदा जुटाकर और श्रमदान कर सड़क की मरम्मत करने में जुटे गए हैं. कोरमा रोड के जलप्पा स्थान से कटारी गांव होते शेखपुरा- मेंहूंस मुख्य सड़क से मिलने वाली यह सड़क पिछले 19 वर्षों से जर्जर अवस्था में है. जगह-जगह गड्ढे हो जाने के कारण बरसात के दिनों में चलना इस सड़क पर और भी मुश्किल हो जाता है. बाइक और विभिन्न वाहन की सवारी करने वाले लोग अक्सर दुर्घटना के  शिकार होते रहते हैं.


परेशानी से आजिज आकर ग्रामीण  अपना हाथ -जगन्नाथ की उक्ति को चरितार्थ करते हुए खुद अपनी समस्या का निदान करने में जुट गए हैं. इस जर्जर सड़क के निर्माण की मांग कटारी गांव के ग्रामीण लंबे अरसे से करते रहे हैं और इसको लेकर आंदोलन भी कर चुके हैं. लोकसभा चुनाव के समय यह मामला काफी गरम हो गया था ग्रामीणों ने वोट बहिष्कार तक की बात कही थी, लेकिन जनप्रतिनिधियों के आश्वासन पर ग्रामीण शांत हो गए लेकिन अब तक इस सड़क की समस्या का निदान नहीं हो पा रहा है. 


जिससे ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है। पिछले दिनों एक शिक्षिका इस सड़क में बुरी तरह से दुर्घटनाग्रस्त हो गई और उन्हें इलाज हेतु पटना ले जाया गया है बताया जाता है कि शिक्षिका की हालत काफी गंभीर है। इस घटना के बाद ग्रामीणों ने स्वयं अर्थदान और श्रमदान के बूते खुद इस सड़क की मरम्मति की ठानी हैं. सड़क मरम्मत श्रमदान करने वालों में प्रमुख लोगों में पैक्स अध्यक्ष अभय शंकर उर्फ कारू जी, राजीव कुमार उर्फ मंटू , रामशंकर सिंह ,भवेश कुमार, किशोर सिंह, दिलीप कुमार, गोपाल जी, नयन इंडिया, अमित कुमार, मुकुल ,नीरव ,सोनू सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण श्रमदान करने में जुटे हैं. इस सड़क मैं विभिन्न जगह व्याप्त गड्ढे को ईट झामा से भरने के साथ उसे मोरंग से समतल किया जा रहा है इसके लिए ग्रामीणों में तकरीबन लाख रूपए में जुटाए .

Find Us on Facebook

Trending News