गया सीआरपीएफ कैम्प में जवान ने इंसास राइफल से खुद को मारी गोली, परिजनों में मचा कोहराम

गया सीआरपीएफ कैम्प में जवान ने इंसास राइफल से खुद को मारी गोली, परिजनों में मचा कोहराम

GAYA : इमामगंज प्रखंड अंतर्गत स्थानीय सीआरपीएफ 159 वीं बटालियन कैंप में एक जवान ने तनाव में आकर खुद को राइफल से गोली मार ली। इसके बाद से उसकी हालत गंभीर है। वही गोली की आवाज सुनकर कैंप में रहे जवानों ने दौड़ कर बैरक में देखा तो जवान छोटू लाल जाठ अपने शरीर में 3 गोली मार लिया था। घटना के बाद पुरे सीआरपीएफ कैंप में हड़कंप मच गया। वही मौके पहुंचे अधिकारियों एवं जवानों ने मौके से घायल जवान को तुरंत इमामगंज सीएससी में ले जाकर भर्ती करवाया। जहां वहां के डॉक्टरों ने प्रारंभिक इलाज के बाद बेहतर इलाज के लिए गया मगध मेडिकल की रेफर कर दिया है। वहां से भी उसकी स्थिति गंभीर देख वहां के डॉक्टरों ने पटना पीएमसीएच के लिए रेफर कर दिया।  जहां उसका इलाज चल रहा है। 


इस घटना के संबंध में स्थानीय कैंप के सहायक कमांडेंट अमर घोष ने बताया की गुरुवार की अहले सुबह लगभग 6:00 बजे कैंप के बने बैरक में एक जवान ने अपने आप को सीने में गोली मारकर आत्महत्या करने की कोशिश की। घटना के बाद गंभीर अवस्था में उसे बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच में भर्ती कराया गया है। फिलहाल उसकी स्थिति खतरे से बाहर बताई जा रही है। 

उन्होंने बताया की जवान छोटू लाल जाठ राजस्थान के टौंक जिले के खालिपुरा गांव के रहने वाला है। इमामगंज सीआरपीएफ कैंप में डेढ़ साल से तैनात है। वह बीच में दो महीने की छुट्टी काटकर 8 दिन पूर्व ही ड्यूटी ज्वाइन किया था। हालांकि उसको कोई तनाव नहीं था। कुछ महीने के बाद ही उसको सिपाही से हवलदार में प्रमोशन होने वाला था। वहीं इस घटना को लेकर उसके परिवार वाले के लोगों से भी बात करने की कोशिश की गई। लेकिन परिवार वाले के लोग तनाव की बात स्वीकार नहीं कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि उसके एक बच्चे है, और पत्नी बच्चे सही परिवार मिल जुल कर रह रहे थें। आज अचानक से इस घटना के बाद पुरे सीआरपीएफ कैंप में खलबली मच गई है। स्थानीय कैंप कमांडेंट ने बताया कि आखिर छोटू लाल जाठ ने क्यों अपने आप को गोली मारकर सुसाइड करने की कोशिश की है।  इसके कारणों को पता लगाया जा रहा है। फिलहाल कोई स्पष्ट बात निकलकर सामने नहीं आई है। उन्होंने बताया कि उसने अपने शरीर में बाएँ छाती की ओर अपने इंसास राइफल से तीन गोली मारी है। इसके बाद उसकी हालत गंभीर है। घटना के बाद उसको गंभीर अवस्था में इमामगंज सीएससी भर्ती करवाया गया। जहां से वहां के डॉक्टरों ने उसकी स्थिति गंभीर देख गया मगध मेडिकल की लिए रेफर कर दिया। बाद ने डॉक्टरों ने उसको स्पेशल एंबुलेंस से पटना पीएमसीएच के लिए रेफर कर दिया गया है। वहां से बेहतर इलाज के लिए रांची एम्स में ले जाकर भर्ती करवाया जाएगा।

गया से मनोज की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News