जदयू का राजद पर बड़ा हमला, लालटेन बिहार के लिए भ्रष्टाचार, उन्माद, अवैध संपत्ति का प्रतीक

जदयू का राजद पर बड़ा हमला, लालटेन बिहार के लिए भ्रष्टाचार, उन्माद, अवैध संपत्ति का प्रतीक

PATNA : जेडीयू ने राजद पर बड़ा हमला बोला है। जेडीयू ने कहा है कि बिहार की महान जनता आप सबों को बिजली मिल रही होगी, इस कारण लालटेन की जरूरत समाप्त हो गई है। ऐसे भी लालटेन बिहार के लिए भ्रष्टाचार, उन्माद, अवैध संपत्ति का प्रतीक बनकर रह गया है।

दरअसल जेडीयू की ओर से यह हमला राजद नेता तेजस्वी यादव द्वारा बिहार की जनता के नाम लिखी गये पत्र के जबाव में दिया गया है। 

तेजस्वी द्वारा बिहार की जनता के नाम लिखे गय़े पत्र के बदले में जेडीयू ने भी प्रदेश की जनता के नाम पत्र जारी किया है। जेडीयू विधान पार्षद व प्रदेश प्रवक्ता नीरज कुमार की ओर से यह पत्र जारी किया गया है। 

बिहार के जनता के नाम जारी इस पत्र में नीरजने ने लिखा है...... 

आदरणीय बिहारवासियों,  

अनुकंपा पर राजनीति करने वालों के लिए इस चुनाव में ’वोट’ के लिए आप याद ही गए। परिवारवाद की राजनीति करने वाले अनुकंपा पर राजनीति में आए नेता अब बिहार के लोगों को पत्र लिख रहे हैं परंतु इस पत्र में भी अपने ’लालटेन’ की लौ से ’हाथ’, ’पंखा’, ’नौका’ को लगता है ’जला’ दिए। यही कारण है कि पत्र में केवल अपनी ही पार्टी राजद को विजयी बनाने की अपील कर रहे हैं। महागठबंधन के अन्य दलों को भूल गए।

बिहार की महान जनता आप सबों को बिजली मिल रही होगी, इस कारण लालटेन की जरूरत समाप्त हो गई है। ऐसे भी लालटेन बिहार के लिए भ्रष्टाचार, उन्माद, अवैध संपत्ति का प्रतीक बनकर रह गया है।

इमानदारी की ’झोपड़ी’ में रहकर वीर पुरूष ’तीर’ थामे ’कमल’ खिलाने को आतुर है परंतु अवैध तरीके से अर्जित भवनों में तो दम घूंटता है। अनुकंपा की राजनीति करने वालों को चारा घोटाले में सजा काट रहे अपने पिता जी से यह पूछना चाहिए कि आखिर बिहार में शिक्षण प्रशिक्षण विद्यालय क्यों बंद करवा दिए थे? सरकार जब नौकरी दी है, तो उसकी देखभाल करना भी सरकार का काम है। इनको नौकरी देने के लिए जमीन नहीं लिखवाई गई है।

एक कहावत है, बांझ क्या जाने परसौती के पीड़ा। अनुकंपा पर तो खुद राजनीति कर रहे हैं, ऐसे में आपको दूसरे की चिंता नहीं करनी चाहिए। आप जैसे पुत्र को जेल में बंद अपने पिता की सेवा की चिंता करनी चाहिए क्योंकि मेवा आप खाईएगा तो सेवा कौन करेगा? 

आपको अपने पिता से उनके शासनकाल में लगने वाले जीएसटी (गुंडा सर्विस टैक्स) के विषय में जान लेना चाहिए और उसे बिहार के लोगों को भी बताना चाहिए। वैसे आप बिहार के लोगों को यह तो बता ही सकते हैं कि इतने छोटे से राजनीतिक जीवन में इतनी संपत्ति के मालिक आप कैसे बन गए? 

अनुकंपा की राजनीति करने वाले नेता का राजनीतिक डीएनए ही डेली न्यू एसेट्स हो और उसके पिता भ्रष्टाचार में जेल में अंदर हों तो उसके मुंह से भ्रष्टाचार की बात करने पर लोग हंस रहे हैं।

बिहारवासियों देश के नवनिर्माण, भ्रष्टाचारमुक्त देश और राज्य बनाने के लिए एक मजबूत और इमानदार नेता की जरूरत है। मतबूत राष्ट्र और विकसित राष्ट्र की ओर देश बढ चला है, अब बिहार के लोग उस ’जंगलराज’ को कभी नहीं आने देंगे।

आपका प्यार सदा बना रहे। न्याय के साथ सुशासन की प्रतिबद्धता है।

आपका 

नीरज कुमार

जद (यू) प्रवक्ता

Find Us on Facebook

Trending News