जदयू नेता नीरज कुमार का विपक्ष पर निशाना, कहा- 'जो राजनीतिक फरार मुजरिम हैं, उन्हें सच का एहसास करना चाहिए'

जदयू नेता नीरज कुमार का विपक्ष पर निशाना, कहा- 'जो राजनीतिक फरार मुजरिम हैं, उन्हें सच का एहसास करना चाहिए'

पटना... कोविड 19 के दाैर में बेहतर कार्य करने को लेकर बिहार को राष्ट्रपति की ओर से पुरस्कृत किया जाएगा। पूर्व मंत्री और जदयू के वरिष्ठ नेता नीरज कुमार ने अब विपक्ष को एहसास दिलाने की कोशिश की है और बयान जारी कहा है कि राजनीति में सच का सामना करने की ताकत होनी चाहिए। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की बेहतर नीतियां ही हैं जो बिहार को महामारी के दौर में बेहतर कार्य करने की प्रेरणा देता है। 

जदयू नेता नीरज कुमार ने कहा कि विपक्ष को क्या एहसास हुआ कि कोविड-19 के वैश्विक आपदा में बिहार जैसा राज्य जो देश के विभिन्न राज्यों का बिहारी बोझ उठाते हैं, भोज नहीं हैं। कोविड-19 के दौर में नीतीश कुमार की कार्यशैली के बदौलत डिजिटल इंडिया महामारी श्रेणी में अवार्ड 2020 राष्ट्रपति के द्वारा दिया जा रहा है। ये बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की रणनीति और धैर्य पूर्वक चुनौतियों से जूझने की दम्य शक्ति की बदौलत ही मिला है। 

नीरज कुमार ने कहा कि कोविड-19 के दौर में जो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जो लकीर खींची है, इसे देखना चाहिए और जिनको पॉलिटिकल कॉविड हो गया है, संक्रमण के शिकार हैं, फरार, राजनीतिक मुजरिम हैं। एहसास कर लीजिए सच-सच होता है। जो कोविड-19 में नीतीश कुमार ने जो काम किया वह नतीजा 30 दिसंबर को राष्ट्रपति के परिसर में नजर आएगा। सच का एहसास करना ही राजनीति में महत्वपूर्ण होता है। 

बिहार को 'डिजिटल इंडिया अवार्ड 2020' 

आपको बता दें कि  केंद्र सरकार की ओर से बिहार को 'डिजिटल इंडिया अवार्ड 2020' से सम्मानित किया जाएगा। कोरोना काल में बिहार सरकार की ओर से डिजिटल तरीके से लोगों को सहायता पहुंचाने के लिए किए गए प्रयासों पर यह अवार्ड मिलेगा। इस अवार्ड के लिए केंद्र एवं राज्य सरकारों के विभिन्न विभागों से 6 श्रेणियों में 190 आवेदन किए गए थे। बिहार के मुख्यमंत्री सचिवालय, आपदा प्रबंधन विभाग और NIC को 'महामारी श्रेणी' में विजेता चुना गया है।

क्या है यह अवार्ड

सरकारी विभागों की ओर से आम जनता के लिए तैयार किये गए उत्कृष्ट डिजिटल उत्पाद और सेवाओं के लिए केंद्र सरकार द्वारा दिया जाने वाला 'डिजिटल इंडिया अवार्ड' एक राष्ट्रीय स्तर का पुरस्कार है। बिहार सरकार के ‘आपदा संपूर्ति पोर्टल’ को महामारी में अनुकरणीय इनोवेशन के लिए सम्मानित किया गया है। इस पोर्टल को NIC की तकनीकी देखरेख में विकसित किया गया है।

Find Us on Facebook

Trending News