गया में आभूषण कारोबारी ने पुलिस पर लगाया गंभीर आरोप, रुपये नहीं देने पर की मारपीट और दी गंदी-गंदी गालियां

गया में आभूषण कारोबारी ने पुलिस पर लगाया गंभीर आरोप, रुपये नहीं देने पर की मारपीट और दी गंदी-गंदी गालियां

गया. जिले के कोतवाली थाना की पुलिस पर गंभीर आरोप लगे हैं। मामला एक आभूषण कारोबारी से जुड़ा हुआ है। कोतवाली पुलिस पर आरोप लगा है कि उसने आभूषण कारोबारी से रुपए लिये, जबकि और रुपए देने से इनकार किया तो थर्ड डिग्री का इस्तेमाल किया। अब यह मामला गया एसएसपी हरप्रीत कौर के पास पहुंचा है।

कोतवाली थाना अंतर्गत गोरिया मठ रमना रोड के रहने वाले अमित कुमार ने इस मामले को लेकर गया एसएसपी हरप्रीत कौर को आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाई है। अमित कुमार ने कहा है कि बीते 3 नवंबर को करीब 6 बजे कोतवाली थाना के प्रभारी केके अकेला ने मुझे बुलाया और जबरन उठाकर अपने कार्यालय में बैठाकर उसके बाद ऊपर ले गये। कमरे में चार पांच पुलिसकर्मियों के साथ बंदूक-लाठी के जोर पर हमसे एक सादे कागज पर जबरन अपने मन के अनुसार लिखवाया और रुपये की मांग करने लगे। ऐसा लिखने से मना किया तो लाठी से गुप्तांग पर प्रहार किया और मारपीट की। वहीं मेरी पत्नी और परिवार के लोगों को गाली गलौज करते हुए कहा कि अगर कागज पर नहीं लिखोगे तो तुम्हारे परिवार को किसी भी झूठा मुकदमा में नाम डाल देंगे। व्यापार करना चाहते हो तो पैसा दे दो अन्यथा तुम्हारे साथ कुछ भी हो जाएगा।

अमित कुमार ने बताया कि मामला 22 अक्टूबर की घटना से जुड़ा हुआ है। उन्होंने कहा है कि उस दिन मेरी पत्नी शिल्पा गुप्ता के द्वारा दिया गया नकदी-जेवरात लेकर अपनी दुकान को लेकर जा रहा था। हॉल मार्किंग के लिए मुर्दा गली सर्राफा मंडी से जा रहा था। तभी वैष्णो ज्वेलर्स के मालिक राजू कुमार एवं उसके भाई और अन्य ने मिलकर मेरे नकदी-जेवर जबरदस्ती छीन लिया और भाग निकले। इस घटना को लेकर मेरे द्वारा कोतवाली थाना में आवेदन दिया गया। आवेदन पत्नी के द्वारा दिया गया था।

वहीं, कोतवाली थानाध्यक्ष केके अकेला ने 2 लाख की मांग की। मेरी पत्नी ने उनको 60 हजार दिए। केके अकेला ने इसके बाद संध्या के 5 बजे के आसपास अपने पुलिसकर्मियों को वैष्णो ज्वेलर्स के मालिक राजू कुमार को पकड़कर लाने को कहा और मुझे जेवर वापस पाने के लिए एक लाख 40 हजार और मांगे, जो हम लोगों ने कहा कि राजीव कुमार और उसके सहयोगियों पर इस घटना के लिए एफआईआर कीजिए तो उन्होंने मना कर दिया। वहीं सादे कागज पर लिखवा दिया कि रुपए उधार लिए गए थे। इसके बाद मैं अपना जेवर लेकर वापस अपनी दुकान चौक सराफा पंडरिया चलाया।

अब इसके बीच 3 नवंबर को कोतवाली थानाध्यक्ष ने थाने पर बुलाकर सादे कागज पर लिखवाया और रुपये देने के लिए राजू कुमार को कह रहे हैं। वहीं इनकार किया गया तो उन्होंने मारपीट करते हुए मेरे गुप्तांग में भी लाठी से वार किया। मेरी परिवार को भी गाली गलौज किया। वे मांग करते हैं कि कोतवाली थानाध्यक्ष की लगातार इस तरह की कारगुजारी को लेकर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए और न्याय दिलाया जाए। वहीं उनसे यह भी पूछा जाए कि उन्होंने एफआईआर क्यों नहीं लिया और कागज पर मुझसे जबरदस्ती हस्ताक्षर क्यों लिए जा रहे हैं।

वहीं, इस तरह की शिकायत मिलने के बाद एसएसपी हरप्रीत कौर ने कहा है कि इस तरह का मामला सामने आने के बाद उन्होंने सिटी एसपी को इसकी जांच की जिम्मेदारी दी है। दो दिनों के भीतर जांच रिपोर्ट की मांग की गई है। यदि यह मामला रहा तो कोतवाली थाना अध्यक्ष के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल दो दिनों में होने वाले जांच रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है और उसके बाद कार्रवाई की जाएगी।

Find Us on Facebook

Trending News