भाकपा नेता कन्हैया कुमार के खिलाफ पार्टी ने पारित किया निंदा प्रस्ताव, वरिष्ठ नेता को थप्पड़ मारने का आरोप

भाकपा नेता कन्हैया कुमार के खिलाफ पार्टी ने पारित किया निंदा प्रस्ताव, वरिष्ठ नेता को थप्पड़ मारने का आरोप

DESK : जेएनयू के पूर्व अध्यक्ष और भाकपा नेता कन्हैया कुमार के खिलाफ उनकी पार्टी ने निंदा प्रस्ताव पारित किया है. भाकपा के कार्यालय सचिव इंदुभूषण वर्मा के साथ मारपीट करने के बाद उनके खिलाफ कार्रवाई की गयी है. हैदराबाद में नेशनल काउंसिल की बैठक में ये निंदा प्रस्ताव पारित किया गया है. तेलंगाना सीपीआई के राज्य सचिव सी वेंकट रेड्डी ने कहा कि निंदा प्रस्ताव में कहा गया कि इस नौजवान नेता को इस तरह की चीजों से बचना चाहिए. बिहार के कार्यालय सचिव इंदुभूषण वर्मा के साथ हुई बदसलूकी पर खेद प्रकट किया गया.

दरअसल पूरा मामला 1 दिसंबर 2020 का है. जब कन्हैया कुमार पटना कार्यालय में अपने समर्थकों के साथ पहुंचे थे. वहां बेगूसराय जिला काउंसिल को लेकर बैठक होनी थी. लेकिन किसी कारण से ये बैठक स्थगित कर दी गई थी. लेकिन उसके स्थगित होने की खबर कन्हैया कुमार को नहीं दी गई. इतनी सी बात पर कन्हैया के समर्थकों ने प्रदेश कार्यालय सचिव इंदुभूषण वर्मा के साथ बदसलूकी, धक्का-मुक्की और मारपीट की. इस मामले पर कन्हैया कुमार और उनके साथियों के खिलाफ राष्ट्रीय नेतृत्व से कार्रवाई की मांग की गई थी. तब इस घटना पर पार्टी के बड़े नेताओं ने कुछ नहीं कहा था. हालांकि कन्हैया कुमार ने बाद में सफाई दी थी. उन्होंने कहा था कि वो इस हिंसा के हिस्सा नहीं थे. 

कन्हैया कुमार सीपीआई के नेशनल एग्जीक्यूटिव काउंसिल के सदस्य हैं. लेकिन तबीयत खराब होने की वजह से वो बैठक में शामिल नहीं थे. नेशनल एग्जीक्यूटिव काउंसिल के 110 सदस्यों ने इस मीटिंग में शिरकत की. सीपीआई के राष्ट्रीय महासचिव डी राजा भी मौजूद थे. कन्हैया कुमार के खिलाफ निंदा प्रस्ताव का मात्र तीन सदस्यों ने विरोध किया था. 



 
 
 

Find Us on Facebook

Trending News