जुबान पर कंट्रोल रखें शिक्षा मंत्री! बोले पप्पू यादव - रामचरित मानस पर मुंह खोलने की जगह यूनिवर्सिटी के कैलेंडर को सुधारें

जुबान पर कंट्रोल रखें शिक्षा मंत्री! बोले पप्पू यादव - रामचरित मानस पर मुंह खोलने की जगह यूनिवर्सिटी के कैलेंडर को सुधारें

KAIMUR : - रामचरितमानस पर  शिक्षा मंत्री डा. चंद्रशेखर के विवादित बयान को लेकर भले ही राजद ने खुलकर उनका समर्थन किया हो, लेकिन बिहार की तमाम पार्टियां इस मुद्दे पर शिक्षा मंत्री के बयान को गलत माना है। अब इसमें जाप सुप्रीमो पप्पू यादव भी शामिल हो गए हैं। उन्होंने इस मुद्दे पर सीधे सीधे शिक्षा मंत्री को अपनी जबान पर कंट्रोल रखना चाहिए।

कैमूर के भभुआ पहुंचे पप्पू यादव ने मीडिया से वार्ता के दौरान कहा राम तुलसीदास कृत जो रामायण लिखे गए उसमें लिखे गए किसी लाइन पर सवाल खड़ा हो सकते हैं, विचारों पर खड़ा हो सकते हैं, लेकिन लेकिन राम के कैरेक्टर पर नहीं। कोई पार्टी दल व्यक्ति गलत हो सकता है लेकिन कोई महापुरुष गलत नहीं होता। महापुरुष ने सदैव वसुदेव कुटुंबकम का बात किया है। तुलसीकृत रामायण जो लिखी गई है हो सकता है उसमें कोई लाइन गलत हो गई हो, भूल हो। लेकिन आपको जब एजुकेशन मिनिस्टर बनाया गया है जो बीएसएससी का पेपर लीक हो रहा है आप उसे रोको। जो यूनिवर्सिटी का कैलेंडर 3 साल 4 साल बैक जाता है उसको सही करो। प्राइवेट स्कूल पर बंदिश लगाकर सरकारी स्कूल के निर्माण के लिए लाया गया है उसको देखो । 

हम किसी को गाली देने नहीं आए हैं हम दबे कुचले की आवाज के लिए किसी भी ऊंची जाति को गाली नहीं देंगे । हम किसी धर्म और मजहब से नफरत नहीं करेंगे। ऐसे लोगों को अपनी जुबान को कंट्रोल रखना चाहिए । रामचरितमानस का पूरा ग्रंथ त्याग बलिदान और प्रेम का है। उसमें किसी लाइन में भूल हो सकती है लेकिन जिसके लिए सवाल खड़ा नहीं किया जा सकता। इस दौरान उन्होंने चंद्रशेखर का सपोर्ट करनेवाले जगदनांद स

वहीं बक्सर में किसानों की मुद्दे को खत्म कर इस मुद्दे को हावी किया जा रहा है, इसलिए हम लोग गिरिराज और अश्विनी चौबे नहीं बने और ना ही हम लोग बीजेपी बने। पप्पू यादव चौसा के बनारपुर में पीड़ित किसानों से मिलने भी गए थे।

Find Us on Facebook

Trending News