लखीमपुर खीरी केसः प्रियंका-राहुल ने की परिजनों से मुलाकात, HC के रिटायर्ड जज को मिला जांच का जिम्मा, SC ने भी लिया स्वतः संज्ञान

लखीमपुर खीरी केसः प्रियंका-राहुल ने की परिजनों से मुलाकात, HC के रिटायर्ड जज को मिला जांच का जिम्मा, SC ने भी लिया स्वतः संज्ञान

N4N DESK: उत्तर प्रदेश का लखीमपुर खीरी शहर इस वक्त राज्य ही नहीं, बल्कि उत्तर भारत का हॉट-स्पॉट बना हुआ है। विपक्ष ने इसे बड़े मुद्दे के तौर पर उठाया है और लगातार तमाम विपक्षी नेता वहां मजमा लगाने पहुंच रहे हैं। इस केस की लगातार उच्चस्तरीय जांच की मांग की जा रही थी, जिसके बाद योगी सरकार ने इसे स्वीकृत कर जांच के आदेश दे दिए हैं।

मामले को देखेंगे हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज 

यूपी के लखीमपुर खीरी में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत के मामले में योगी सरकार ने एक सदस्यीय न्यायिक जांच कमेटी का गठन कर दिया है। इलाहबाद हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज प्रदीप कुमार श्रीवास्तव पूरे मामले की जांच करेंगे और दो महीने के भीतर अपनी रिपोर्ट शासन को सौंपेंगे। गृह विभाग की तरफ से न्यायिक जांच कमेटी की गठन की जानकारी दी गई है। गौरतलब है कि किसानों की तरफ से मामले की न्यायिक जांच की मांग की गई थी।

सुप्रीम कोर्ट ने भी लिया स्वतः संज्ञान

गौरतलब है कि लखीमपुर खीरी कांड का सुप्रीम कोर्ट ने भी स्वतः संज्ञान लिया है और गुरुवार को चीफ जस्टिस ऑफ़ इंडिया की अगुवाई वाली बेंच इसकी सुनवाई करेगी। इसके अलावा इलाहाबाद हाईकोर्ट के अधिवक्ता ने भी चीफ जस्टिस को ईमेल के माध्यम से इंटरवेंशन एप्लीकेशन भेजी है, जिसमे दोषी अधिकारियों को निलंबित करने और पूरे मामले की हाई कोर्ट की निगरानी में सीबीआई से जांच करवाने की मांग की गई है।

राहुल-प्रियंका ने की परिजनों से मुलाकात

राहुल और प्रियंका देर रात लखीमपुर में पीड़ित परिवारों से मुलाकात करके तड़के 3 बजे लखनऊ आ गए थे। बुधवार शाम को राहुल-प्रियंका सबसे पहले लखीमपुर खीरी के तिकुनिया गांव पहुंचे। यहां मृतक किसान लवप्रीत सिंह के परिवार से मिले। माता-पिता के गले लगकर ढाढ़स बंधाया। इसके बाद मृतक स्थानीय पत्रकार रमन कश्यप के घर पर दोनों पहुंचे। यहां प्रियंका ने पत्रकार रमन की पत्नी आराधना और उसके बच्चों वैष्णवी व अभिनव से बात की। हर सहयोग का आश्वासन दिया। फिर धौरहरा के मृतक किसान नक्षत्र सिंह (55) के परिवार से मुलाकात की। इस दौरान राहुल ने कहा कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से परिजन संतुष्ट नहीं हैं। उन्हें समझ नहीं आ रहा है कि रिपोर्ट में क्या लिखा है।

राहुल और प्रियंका के साथ पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, सांसद दीपेंद्र हुड्डा, केसी वेणुगोपाल, रणदीप सुरजेवाला और अजय सिंह लल्लू भी मौजूद रहे। राहुल का आज दिल्ली लौटने का कार्यक्रम है।

15 लोगों के खिलाफ केस दर्ज, मुआवजे का ऐलान

इस मामले में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे आशीष मिश्र समेत 15 लोगों के खिलाफ हत्या और आपराधिक साजिश का केस दर्ज किया गया है। सरकार और किसानों के बीच समझौता हुआ। सरकार ने मृतकों के परिवार को 45 लाख रुपए मुआवजा दिया। एक सदस्य को सरकारी नौकरी के साथ घटना की न्यायिक जांच और 8 दिन में आरोपियों की गिरफ्तारी का वादा भी किया गया है। वहीं पंजाब और छत्तीसगढ़ सरकार ने लखीमपुर हिंसा में मारे गए सभी मृतकों के परिजनों को 50-50 लाख रुपए देने का ऐलान किया। यानी, हर मृतक के परिवार को कुल एक-एक करोड़ रुपए दिए जाएंगे।

Find Us on Facebook

Trending News