लालू प्रसाद-तेजस्वी के खिलाफ कार्रवाई का विरोध करने पर सोशल मीडिया पर ट्रोल हो गए ललन सिंह, भाजपा ने बताया - महाखुराफाती

लालू प्रसाद-तेजस्वी के खिलाफ कार्रवाई का विरोध करने पर सोशल मीडिया पर ट्रोल हो गए ललन सिंह, भाजपा ने बताया - महाखुराफाती

PATNA : जॉब फॉर लैंड स्कैम केस में तेजस्वी यादव और लालू प्रसाद के खिलाफ हो रही कार्रवाई का विरोध कर जदयू अध्यक्ष ललन सिंह सोशल मीडिया पर ट्रोल हो गए हैं। ट्विटर पर भाजपा के खिलाफ किए गए पोस्ट को लेकर लोगों ने कमेंट में ललन सिंह को तीन साल पहले दिए गए बयान की याद दिला दी है। कमेंट में लोगों ने ललन सिंह से पूछा है कि 2020 में तेजस्वी यादव के खिलाफ जांच की मांग करनेवाला यह नेता कौन है। लोगों ने इस पूरे जांच के लिए ललन सिंह को ही जिम्मेदार बता दिया है। 

एक यूजर्स ने लिखा है कि 'इतनी नौटंकी कर कैसे लेते हो साहब कभी खुद ही जाँच और FIR करवाते हो #LaluPrasadYadav पर, आज उनके लिए विधवा विलाप कर रहे हो! ये बच्चे और गर्भवती महिलाऐं केवल उन्हीं के घर में हैं या फिर आम जनमानस को भी ऐसी सुविधा मिलनी चाहिए,जिसके लिए इतना बड़ा ट्वीट किये हैं ? #JungleRaj not again'

दूसरे यूजर्स ने लिखा है कि 'श्रीमान जी शायद आप भूल गए, चारा घोटाला और जमील के बदले नौकरी घोटाला का सबूत के साथ प्रेस कांफ्रेंस कर के केश के जॉच की मांग की थी। खैर नेता है आपको आपका नीति नियत नैतिक उसी दिन खत्म हो गया था जिस दिन श्रीमती रावड़ी देवी जी बोली थी की @LalanSingh_1   और @NitishKumar  शाला बहनोई है।'

भाजपा प्रवक्ता ने भी साधा निशाना

ललन सिंह के बयान को लेकर भाजपा प्रवक्ता निखिल आनंद ने लिखा है कि 'मार्च 2009 में "#IRCTCघोटाले' का खुलासा करने और सबूत जुटाने वाले ललन सिंह को शर्म भी नहीं आती। 2009 से 2014 तक कांग्रेस की सरकार थी जिसमें इस मामले में त्वरित प्रगति हुई। सभी फँसाने वाले ही लालूजी के खास शुभचिंतक बन रहे हैं। भाजपा के खिलाफ बोलकर तो इनकी राजनीतिक दुकान चलती है।'

लालू प्रसाद को किया सावधान

#चारा_घोटाला#IRCTCघोटाला सहित अन्य मामले का खुलासा करने और सबूत जुटाने वाला लगता है कि राजद को पूरी तरह बर्बाद करने की साजिश रच रहा है। लालूजी! आपकी जिंदगी तबाह करने वाला महाखुराफाती आपकी ही गोदी में बैठकर ताबड़तोड़ तेल मालिस कर शुभचिंतक बने तो आश्चर्य होता है। सतर्क हो जाइये।


Find Us on Facebook

Trending News