‘लालू के नौवां पास लइका बनी मुख्यमंत्री त राउर के बेटा चपरासी भी नहीं’, प्रशांत किशोर के बयान से मचा बवाल

‘लालू के नौवां पास लइका बनी मुख्यमंत्री त राउर के बेटा चपरासी भी नहीं’, प्रशांत किशोर के बयान से मचा बवाल

बेतिया. जन सुराज यात्रा पर बिहार भ्रमण कर रहे प्रशांत किशोर ने लालू यादव और उनके बेटे तेजस्वी यादव पर जमकर निशाना साधा है. उन्होंने तेजस्वी की शैक्षणिक योग्यता पर सवाल करते हुए उन पर तंज कसा है. साथ ही आम लोगों से किए गए तेजस्वी के नौकरी देने के वादे पर भी प्रशांत किशोर ने गंभीर सवाल उठाया है. दरअसल, जन सम्पर्क कर रहे प्रशांत किशोर का एक वीडियो चर्चा में है. इसमे वे कुछ महिलाओं से भोजपुरी में बात करते दिख रहे हैं. वे महिलाओं से राज्य में बेरोजगारी से जुड़े मुद्दे पर बात करते हैं. इसी दौरान उनका एक संवाद अब सुर्खिया बटोर रहा है. 

प्रशांत किशोर उन महिलाओं से भोजपुरी में बोलते हैं- ‘मान ली लालू जी लइका नौवां पास बा त उ बनत का मुख्यमंत्री, आ राउर लइका नौवां पास रही त ओकरा का चपरासियो के नौकरी मिलल? जेकर बाबूजी विधायक रही, मंत्री रही त ओकर लइका नौवां फेल त ओखे नौकरी मिल जाई’. (मान लीजिये लालू यादव का बेटा नौवी पास है तब भी वह वे मुख्यमंत्री बन जाते हैं और आप लोगों का बेटा अगर नौवा पास है तो क्या उसे चपरासी की नौकरी भी मिल पाई है. यानी जिसका पिता विधायक हो या मंत्री हो उसके पुत्र को नौवी पास होने पर भी नौकरी मिल जाती है. और अन्य लोगों का ?)

प्रशांत किशोर पश्चिम चम्पारण जिला में शनिवार को जन सुराज पदयात्रा के छठे दिन गौनाहा प्रखंड के देवराह गांव पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने कटराव में स्थानीय महिलाओं से मुलाकात की लोगों को जन सुराज की सोच के बारे में समझाया। पश्चिम चंपारण के धनौजी में स्थानीय लोगों से बात करते हुए प्रशांत किशोर ने कहा कि लालू जी का लड़का 9वीं पास है और वो उपमुख्यमंत्री हैं ,अगर आपका बच्चा 9वीं पास होगा तो क्या उसे चपरासी की भी नौकरी मिलेगी क्या ? साथ ही उन्होने यह भी कह डाला की इस देश मे जिसके बाबूजी विधायक ,मंत्री रहेंगे उसी का बेटा करेगा नौकरी चाहे वह नौवा फेल ही क्यो नही हो इसलिये इसमे अब बदलाव की जरूरत है । राज्य में बेरोजगारी और पलायन के मुद्दे पर प्रशांत किशोर शुरू से लालू यादव को निशाने पर लेते रहे हैं. अब उन्होंने इस तेजस्वी यादव को भी घेरा है. सीधे सीधे उनके मात्र नौवी तक पढ़े होने को लेकर उन्होंने सवाल किय है. लालू यादव अपने बेटे के लिए तो मुख्यमंत्री बनने का रास्ता साफ किए हैं और आम नागरिक के बच्चे पढ़-लिखकर भी बेरोजगार हैं. 

गौरतलब है कि प्रशांत किशोर ने 2 अक्टूबर को बिहार की यात्रा करने के लिए जन सुराज यात्रा की शुरुआत की है. वे पूरे राज्य के दौरे पर हैं. इस दौरान राज्य की मुलभुत समस्याओं को लेकर वे नीतीश सरकार की नीतियों पर सवाल कर रहे हैं. अब उसी क्रम में उन्होंने तेजस्वी यादव को घेरा है. 




Find Us on Facebook

Trending News