बिहार के 130 अन्य अंचलों में जल्द शुरू होगा 'भूमि' सर्वेक्षण, सरकार ने बंदोबस्त पदाधिकारी को भेजा पत्र,जानें कहां-कहां होगा शुरू

बिहार के 130 अन्य अंचलों में जल्द शुरू होगा 'भूमि' सर्वेक्षण, सरकार ने बंदोबस्त पदाधिकारी को भेजा पत्र,जानें कहां-कहां होगा शुरू

PATNA: बिहार के 90 अंचलों के बाद अब 130 अन्य अंचलों में भी जल्द ही भूमि सर्वेक्षण का काम शुरू होगा. राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग ने 18 जिलों के बंदोबस्त पदाधिकारी को पत्र भेजा है. भू अभिलेख एवं परिमाप निदेशक जय सिंह ने विशेष सर्वेक्षण के लिए चयनित अंचलों के अतिरिक्त अन्य जिलों में विशेष सर्वेक्षण एवं बंदोबस्त शिविर गठन करने का आदेश दिया है. बारिश की वजह से सर्वे कर्मियों को टेबल वर्क का काम दिया गया है। निदेशक जय सिंह ने बांका, बेगूसराय, खगड़िया, लखीसराय, जहानाबाद, शिवहर, किशनगंज, अररिया, पूर्णिया, कटिहार, सीतामढ़ी, सुपौल, सहरसा, मधेपुरा, पश्चिम चंपारण, जमुई, मुंगेर एवं नालंदा के बंदोबस्त पदाधिकारी को पत्र भेजा है.

130 और अंचलों में जल्द शुरू होगा भूमि सर्वेक्षण

 सरकार ने अपने पत्र में कहा है कि राज्य के 20 जिलों में विशेष सर्वेक्षण का कार्य प्रारंभ किया गया है. इस आदेश के आलोक में नव नियोजित विशेष सर्वेक्षण कर्मियों की उपलब्धता के आधार पर 20 जिलों के कुल 220 अँचलों में से 90 अंचलों में 207 शिविर गठन कर विशेष सर्वेक्षण का कार्य प्रारंभ किया गया है. शिविर में बरसात एवं बाढ़ के कारण कुछ महीनों तक विशेष सर्वेक्षण का कार्य बनाए रखना संभव नहीं हो पा रहा. इस स्थिति में ऐसे शिविरों में पदस्थापित कर्मियों से शेष अंचलों में सर्वेक्षण पूर्व गतिविधि के अंतर्गत की जाने वाली कार्रवाई संपादित कराई जाये। निदेशख ने बंदोबस्त पदाधिकारी को निदेशित किया है कि इन अंचलों में सरकारी भूमि से संबंधित विवरणी को संग्रहित करें. जिला स्तर पर सभी अंचलों में शिविर गठित करें.

90 अंचलों में चल रहा काम

शिविर गठित करते समय कई बिंदुओं पर ध्यान देने की जरूरत बताई गई है। प्रत्येक शिविर में 20-25 राजस्व ग्रामों को रखा जाए. शिविर का मुख्यालय सुविधाजनक स्थान पर हो. शिविर अंतर्गत ग्रामों की सीमा भौगोलिक रूप से आपस में संबद्ध हो. शिविर में सम्मिलित प्रत्येक राजस्व ग्राम का नाम एवं थाना नंबर स्पष्ट हो। शिविर के लिए चयनित ग्राम उससे संबंधित अंचल के अंतर्गत अवस्थित हो. किसी दूसरे अंचल में सम्मिलित करना प्रशासनिक एवं सर्वेक्षण के दृष्टिकोण से गलत होगा. शिविर गठन करते समय जिलों के लिए की गई राज्य स्तरीय अधिसूचना के आलोक में नगर निकायों के क्षेत्र एवं और सर्वेक्षक भूमि टोपो लैंड को छोड़कर केवल ग्रामीण क्षेत्रों के लिए सर्वेक्षण का कार्य प्रारंभ किया जाए.



Find Us on Facebook

Trending News