बदल गई जिंदगी : 'अफसर' बनने पर गांव की 'बिटिया' का हुआ जोरदार स्वागत, ग्रामीणों ने कहा नाम रोशन कर दिया

बदल गई जिंदगी : 'अफसर' बनने पर गांव की 'बिटिया' का हुआ जोरदार स्वागत, ग्रामीणों ने कहा नाम रोशन कर दिया

MOKAMA : बीपीएससी में सफलता का शानदार परचम लहराने वाली मोकामा टाल क्षेत्र के कररा की बेटी रिमझिम गुड़िया का गांव में जोरदार स्वागत किया गया। रिमझिम गुड़िया ने बीपीएससी की घोषित परीक्षा में 94 वां रैंक प्राप्त कर कररा गांव का नाम रोशन कर दिया। किसान अशोक चौधरी की प्रथम पुत्री रिमझिम गुड़िया ने मोकामा से प्राथमिक शिक्षा प्राप्त कर पटना में बीपीएससी की तैयारी की थी। 

कररा गांव पहुंचते ही गांव की बेटी रिमझिम गुड़िया का ग्रामीणों ने मिठाई खिला और माला पहनाकर खैर मकदम किया।इस मौके पर पंचायत समिति सदस्य अरविंद कुमार ने भी शिरकत की और गांव की बेटी की सफलता पर खुशी का इजहार किया। गांव के लोगों का कहना था कि रिमझिम की सफलता गांव के दूसरे बच्चों को बेहतर शिक्षा के लिए प्रेरित करने का काम करेगी। अगर मन लगाकर पढ़ाई करेंगे तो निश्चित रूप से कामयाबी मिलेगी। 

वहीं बीपीएससी में सफलता पाने के बाद रिमझिम ने इसका पूरा श्रेय अपने माता पिता और शिक्षकों को दिया है। रिमझिम ने बताया कि कामयाबी के लिए कठिन परिश्रम की जरुरत होती है, बिना परिश्रम के सफलता नहीं मिल सकती है।

Find Us on Facebook

Trending News