शराब के धंधेबाज हुए हाइटेक, राजधानी एक्सप्रेस जैसी रॉयल ट्रेन से करा रहे हैं डिलिवरी, यह रहा सबूत

शराब के धंधेबाज हुए हाइटेक, राजधानी एक्सप्रेस जैसी रॉयल ट्रेन से करा रहे हैं डिलिवरी, यह रहा सबूत

PATNA : शराब के धंधेबाज अब हाइटेक हो गए हैं। अब तक  ज्यादातर यह सुनने में आता  था कि शराब की तस्करी के लिए पैसेंजर ट्रेनों या साधारण एक्सप्रेस ट्रेन में शराब की तस्करी हो रही है। जिसमें पकड़े जाने का खतरा भी अधिक होता था। अब इससे बचने के लिए धंधेबाजो ने अब दूसरा विकल्प ढूंढ़ लिया है। अब धंधेबाज  शराब की तस्करी के लिए राजधानी एक्सप्रेस का प्रयोग कर रहे हैं। राजधानी पटना में ऐसे ही दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जो इस महंगी ट्रेन में शराब की तस्करी कर रहे थे। 

मामला पटना के राजेंद्र नगर टर्मिनल से जुड़ा है। जहां आरपीएफ ने डिब्रूगढ़ जाने वाली राजधानी एक्सप्रेस के दो कोच अटेंडेंट को शराब की तस्करी करते गिरफ्तार कर लिया है। इस कार्रवाई को लेकर आरपीएफ के अधिकारियों ने बताया कि राजेंद्र नगर टर्मिनल पर प्लेटफॉर्म नंबर एक पर जब टीम गश्ती कर रही थी तब इसी दौरान गाड़ी संख्या 13281 डिब्रूगढ़-राजेंद्र नगर एक्सप्रेस आकर रुकी।

आरपीएफ को देख भागने लगे दोनों 

आरपीएफ ने बताया कि दिल्ली छोक से दोनों पिट्ठू बैग लेकर आ रहे थे आरपीएफ को देखते ही दोनों कोच अटेंडेंट लौटने लगे। संदेह होने पर दोनों को दौड़ाकर पकड़ लिया गया। उन्होंने अपना परिचय गाड़ी संख्या 13288 के कोच अटेंडेंट के रूप में दिया।

बैग में मिली शराब 

जब इन दोनों कोच अटेंडेंट के बैग की तलाशी ली गई तो इसमें शराब की 11 बोतलें मिली।  अटेंडेंट कुंदन के पास से नेवी ब्लू रंग का पिट्ठू बैग मिला जिसमें रॉयल स्टैग विदेशी शराब के 9 बोतल और संजय गुप्ता के बैग से 2 बोतल अंग्रेजी शराब जब्त किया गया।

अब दोनों कोच अटेंडेंट को शराब की तस्करी करते गिरफ्तार कर लिया गया है। रंगे हाथ पकड़े गए दोनों कोच अटेंडेंट को आरपीएफ ने रेल पुलिस को सौंप दिया है जहां से उन्हें जेल भेजा गया है। इन दोनों कोच अटेंडेंट की पहचान भागलपुर जिले के कहलगांव के आठगावा घोघा के रहने वाले कुंदन कुमार और मुंगेर के सिंधिया के सहदेव प्रसाद गुप्ता के रूप में हुई है।


Find Us on Facebook

Trending News