देश में लॉकडाउन, फिर भी हरियाणा में खुली हैं शराब की दुकानें, हुड्डा ने ठेके चलाने पर उठाए सवाल

देश में लॉकडाउन, फिर भी हरियाणा में खुली हैं शराब की दुकानें, हुड्डा ने ठेके चलाने पर उठाए सवाल

DESK: कोरोना वायरस को लेकर पूरे देश में जारी लॉकडाउन के बीच जरूरी सामानों के अलावा भाजपा शासित राज्य हरियाणा के गुरुग्राम और फरीदाबाद, सहित सभी जिलों में शराब की दुकानें भी खुली हुई हैं. प्रधानमंत्री ने 24 मार्च की रात को देश में 21 के दिन के लॉकडाउन का ऐलान करते हुए यह स्पष्ट किया था कि इस दौरान सिर्फ आवश्यवक वस्तुओं और सेवाओं से संबंधित लोग ही घरों से बाहर निकल सकेंगे.

इन आवश्यक वस्तुओं में राशन, दूध, दवा, सब्जी आदि शामिल की गई हैं, और शराब के ठेके इसमें शामिल नहीं हैं इसके बावजूद यहां शराब की दुकाने खुलना हैरान करने वाला है. हालांकि, यह बता दें कि यहां सभी पब, बीयर बार, आहता, रेस्टोरेंट्स बंद हैं और सिर्फ शराब के ठेके ही खुले हैं. 

बता दें कि कांग्रेस नेता दीपेंद्र हुड्डा ने बुधवार को एक ट्वीट कर कहा था, प्रधानमंत्री जी के 21 दिनों के लॉकडाउन के अनुरोध का पूर्ण पालन कराने की बजाय हरियाणा की बीजेपी-जेजेपी सरकार शराब के ठेको को खोलकर जनता के स्वास्थ्य से खिलवाड़ कर रही है. आख़िर किसकी शह पर शराब के ठेके खुले हुए हैं? सरकार के ज़िम्मेदार लोग निजीस्वार्थ,धन लोलुपता से ऊपर उठकर देशहित मे काम करे।

मनोहर लाल खट्टर सरकार ने इस मामले को गंभीरता से लिया है. बताया जा रहा है कि उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला जिनके पास आबकारी विभाग भी है. उन्होंने इस संबंध में बैठक बुलाई है. इस बैठक में लॉकडाउन के दौरान चल रहे शराब के ठेकों को बंद करने पर कोई फैसला हो सकता है. 


Find Us on Facebook

Trending News