पटना के दियारे में लुंगी गंजी पहनकर पुलिस ने की छापेमारी, अवैध शराब भट्ठियों को किया नष्ट

पटना के दियारे में लुंगी गंजी पहनकर पुलिस ने की छापेमारी, अवैध शराब भट्ठियों को किया नष्ट

PATNA : पुलिस की तमाम सक्रियता के बावजूद शराब तस्कर अपना धंधा फैलाने की कोशिशों में लगे रहते हैं. लेकिन पुलिस भी शराब तस्करों के मंसूबों को ध्वस्त करने में जी-जान से जुटी हुई है. ऐसा ही एक मामला मोकामा में सामने आया है. जब शराब तस्करों को चकमा देने के लिए पुलिस लुंगी-गंजी में दियारा पहुंच गई. मोकामा थानाध्यक्ष राजनंदन खुद वेश बदलकर दियारा इलाके पहुंचे और हजारों लीटर शराब को बरामद किया. पुलिस की इस कार्रवाई में अवैध शराब बनाने के बहुत बड़े खेल का खुलासा हुआ है.

बताते चलें की बाढ़ अनुमंडल अंतर्गत मोकामा थाना द्वारा यह कार्रवाई की गई है. सहायक पुलिस अधीक्षक अंबरीश कुमार राहुल के निर्देश पर शराब तस्करों के खिलाफ बाढ़ अनुमंडल की पुलिस लगातार कार्रवाई कर रही है. इसी कड़ी में एएसपी अमरीश राहुल के निर्देश पर मोकामा थानाध्यक्ष द्वारा कार्रवाई की गई. दरअसल मोकामा थानाध्यक्ष राज नंदन को यह सूचना मिली थी कि सुल्तानपुर दियारा इलाके में शराब बनाई जा रही है. गंगा के उस पार घनी झाड़ियों के बीच में शराब बनाए जाने की सूचना मिली थी.

मुखबिरों द्वारा मिली पक्की सूचना के बाद मोकामा थानाध्यक्ष द्वारा छापामारी की योजना बनाई गई. हालांकि सबसे बड़ी परेशानी यह थी कि पुलिस को देखकर तस्कर भाग सकते थे और पुलिस को खाली हाथ लौटना पड़ सकता था. दरअसल गंगा नदी पार करने के लिए घाट पर पहुंचते ही शराब तस्करों को सूचना मिल जाती है और शराब तस्कर शराब को छुपा देते हैं या फिर उसे लेकर गायब हो जाते हैं. शराब तस्करों पर नकेल कसने के लिए ही पुलिस ने सादे लिबास में जाने की रणनीति बनाई. मोकामा थानाध्यक्ष राज नंदन खुद आम किसान का वेश बनाकर दियारा चले गए. उनके साथ कुछ पुलिस वाले थे. लुंगी- गंजी और किसानी लिबास में कई पुलिस जवान गंगा पार पहुंच गए और उसके बाद छापामारी शुरू कर दी गई. दरअसल पुलिस ने यह रणनीति इसलिए अपनाई ताकि पुलिस के आने की भनक शराब तस्करों को न लगे और मुकम्मल कार्रवाई की जा सके.


सुल्तानपुर दियारा में बड़े पैमाने पर अवैध शराब बनाया जा रहा था. पुलिस ने 1000 लीटर से अधिक शराब को नष्ट किया है. 50 लीटर निर्मित शराब की बरामदगी हुई है. पुलिस के लिए यह बड़ी सफलता इसलिए मानी जा रही है कि गंगा नदी के उस पार घनी झाड़ियों के बीच में जमीन में गड्ढा कर शराब बनाए जा रहे थे और एक पूरा सेटअप लगाया गया था. पुलिस की सक्रियता से अवैध शराब का यह सेटअप पूरी तरह से ध्वस्त हो गया. मोकामा थानाध्यक्ष द्वारा शराब तस्करों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है.वहीं दूसरी तरफ पंडारक, सालिमपुर, अथमलगोला और हाथीदह में भी शराब कारोबारियों के खिलाफ अभियान चलाया गया है तथा 8 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

पटना से विकास कुमार की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News