'मांझी' ने BJP से लिया पंगा! पूर्व CM ने योगी मॉडल को किया खारिज, नीतीश मॉडल अपनाने की दी सलाह

'मांझी' ने BJP से लिया पंगा! पूर्व CM ने योगी मॉडल को किया खारिज, नीतीश मॉडल अपनाने की दी सलाह

PATNA: जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर बिहार एनडीए दो फाड़ हो गया है। सत्ताधारी बीजेपी-जेडीयू के बीच मतभेद खुलकर सामने आ गये हैं.जनसंख्या नियंत्रण कानून पर जेडीयू-बीजेपी की अलग-अलग राय के बीच पूर्व सीएम जीतनराम मांझी भी मैदान में कूद गये हैं। एनडीए के सहयोगी मांझी सीएम नीतीश कुमार के समर्थन में आये हैं। मांझी ने बीजेपी से अलग रूख अपनाकर नीतीश कुमार की नीतियों का गुणगान किया है। इतना ही नहीं मांझी ने यूपी के योगी मॉडल को खारिज करते हुए दूसरे राज्यों को भी नीतीश मॉडल अपनाने की सलाह दे दी है। 

नीतीश मॉडल बेहतर-मांझी

हम के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने कहा है कि जनसंख्या नियंत्रण को लेकर HAM सीएम नीतीश कुमार के बयान एवं उपायों का स्वागत करतें हैं। बिहार में बच्चियों की शिक्षा का असर है कि देश के प्रजनन दर के औसत में बिहार का प्रजनन दर कम है। इसलिए जनसंख्या नियंत्रण के लिए अन्य राज्यों को भी नीतीश कुमार जी के मॉडल को अपनाने की आवश्यकता है। 

क्या कहा था सीएम नीतीश ने 

 मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने साफ कर दिया है कि कानून से बढ़ती आबादी को नहीं रोक सकते। जनसंख्या पर नियंत्रण करना है तो महिलाओं को शिक्षित करना जरूरी है। मुख्यमंत्री ने तो यहां तक कह दिया कि कुछ राज्यों का अपना मत है, वे कानून बनाने की बात कर रहे। मुख्यमंत्री ने कहा है कि बिहार में जनसंख्या नियंत्रण कानून की जरूरत नहीं। शिक्षा वो हथियार है जिससे हम आबादी को रोक सकते हैं। मुख्यमंत्री के इस बयान के बाद सहयोगी बीजेपी नेताओं ने एक स्वर से जनसंख्या नियंत्रण के लिए योगी मॉडल अपनाने की मांग तेज कर दी है।मंगलवार को पटना में तो केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय ने यूपी सीएम योगी द्वारा जनसंख्या नियंत्रण को लेकर की गई पहल पर अग्रिम शुभकामना भी दे दी . 

आबादी पर आमने-सामने

 सोमवार को सीएम नीतीश ने जनता दरबार के समापन के बाद जनसंख्या नियंत्रण कानून पर खुल कर अपना विचार रखा था। उनके इस बयान के कुछ देर बाद ही डिप्टी सीएम रेणु देवी ने जनसंख्या नियंत्रण के लिए योगी मॉडल अपनाने की सलाद दे दी थी। हालांकि थोड़ी देर बाद वो बैकफुट पर आ गई और यूपी मॉडल वाला बयान वापस ले लिया .वहीं मंत्री सम्राट चौधरी ने भी जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कानून बनाने को लेकर अपनी स्थिति साफ कर दी। इसके बाद बिहार के सांसद और गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने कह दिया कि जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कानून बनाने पर विस्तृत अवलोकन होना चाहिए। अवलोकन के बाद आगे का निर्णय लिया जाना चाहिए। इशके अलावे बीजेपी कोटे के कई मंत्रियों और विधायकों ने बिहार में भी योगी नीति अपनाने की सलाह दी है। 


Find Us on Facebook

Trending News