तेजस्वी जी, हम जानमाल की सुरक्षा भी करते हैं और सहायता भी...पहले तो लोग जानवरों का चारा भी हजम कर जाते थे

तेजस्वी जी, हम जानमाल की सुरक्षा भी करते हैं और सहायता भी...पहले तो लोग जानवरों का चारा भी हजम कर जाते थे

PATNA: नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव आज बाढ़ प्रभावित सारण के दौरे पर हैं। तेजस्वी बाढ़ प्रभावित इलाकों के दौरे के क्रम में नीतीश सरकार पर हमला बोल रहे हैं।तेजस्वी यादव के बाढ़ प्रभावित इलाकों के दौरे पर जेडीयू ने बड़ा पॉलिटिकल हमला बोला है।नीतीश सरकार में मंत्री नीरज कुमार ने तेजस्वी यादव से पूछा है कि 2017 के बाढ़ आपदा को गंगा मैया की कृपा घोषित कर पीड़ितों को भाग्यशाली बताने वाले लालू प्रसाद तब सारण में ज्ञान बांट रहे थे कि जान बचाइए, दूध चढ़ाईए और पूजा कीजिए। आपको जानकारी नहीं है क्या तेजस्वी जी...।आप यह कब समझेंगे कि प्राकृतिक आपदाएं राजनीतिक तुष्टिकरण का साधन नहीं .

पहले तो लोग जानवरों का चारा भी हजम कर जाते थे

मंत्री नीरज कुमार ने एक साथ चार ट्वीट कर तेजस्वी यादव को घेरा है। उन्होंने कहा कि आपको पता नहीं है कि सारण जिला के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में कल तक 123 सामुदायिक रसोई और 8 पशु कैंप संचालित थे और कल की तारीख तक 55 क्विंटल चारा भी वितरित किया गया है. वो वक्त और था जब लोग जानवरों का चारा भी हजम कर जाते थे। भ्रष्टाचार के महामंडलेश्वर लालू प्रसाद बाढ़ पीड़ितों को कहते थे कि पेमेंट आगे पीछे होते रहेगा,जान बचाइए. हम जानमाल की सुरक्षा भी करते हैं और सहायता भी. सारण जिला में 165 नाव और मोटरवोट संचालित है व बाढ़ प्रभावित 51176 परिवारों को 6000 रुपए की दर से 30,70,56,000 का भुगतान भी हुआ है .

हम जानमाल की सुरक्षा भी करते हैं और सहायता भी

2017 में बाढ़ पीड़ितों को लालू यादव भाग्यशाली बता रहे थे. वहीं सिर्फ सारण में 2017 में माननीय मुख्यमंत्री  नीतीश कुमार ने पीड़ितों के सहायतार्थ 97979 फुड पैकेट वितरण 59 राहत शिविर एवं सामुदायिक रसोई संचालन व 66591परिवारों को 6000/-परिवार की दर से 39,95,46,000की राहत राशि दी .

Find Us on Facebook

Trending News