जब मरीज ने औचक निरीक्षण कर रहे मंत्री से कहा, 9 दिनों से ब्लड के लिये तड़प रही हूं,तो मंत्री जी ने कायम कर दी मिसाल!

जब मरीज ने औचक निरीक्षण कर रहे मंत्री से कहा, 9 दिनों से ब्लड के लिये तड़प रही हूं,तो मंत्री जी ने कायम कर दी मिसाल!

RANCHI : मंत्री जी ने जब से अपने विभाग का पदभार ग्रहण किया है तब से लगातार चिकित्सकों के साथ मिलकर सरकारी अस्पतालों की व्यवस्था सुधारने के संकल्प में लगे हैं. उनकी कोशिश है कि हर कीमत पर प्रदेश में अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति तक झारखंड सरकार की स्वास्थ्य सेवा का लाभ पहुंचा सके ।

सिस्टम को सुधारने के लिए कमर कस चुके मंत्री आज भी राज्य के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स में औचक निरीक्षण को पहुंचे, तभी एक मरीज ने शिकायत की कि पिछले 9 दिनों से ब्लड के लिए तड़प रही हूँ. लेकिन ब्लड नहीं मिल रहा. फिर क्या था. मंत्री जी ने दरियादिली का मिसाल ही कायम कर दिया. 

मंत्री ने अधिकारियों से कहा मेरा ब्लड कीजिये डोनेट 

शीला देवी नाम की मरीज से जब स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता अस्पताल की व्यवस्था के बारे में पूछताछ कर ही रहे थे. तभी अस्पताल के अधिकारियों के सामने ही शीला देवी ने कहा कि मुझे ब्लड की जरूरत है. पिछले 9 दिनों से लगातार ब्लड की व्यवस्था करने की कोशिश में लगी हूं. लेकिन ब्लड नहीं मिल रहा है. फिर क्या था झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने तत्काल बगैर किसी पर दोष मढ़ने के बजाय अधिकारियों को आदेश दिया की उनका ब्लड चेक किया जाए और उनका ही ब्लड मरीज को दिया जाए. 

इस मौके पर बन्ना गुप्ता ने भरोसा भी दिलाया कि सरकारी अस्पतालों की व्यवस्था जल्द ही सुधार दी जाएगी. उन्होंने कहा कि मुझे भरोसा है कि काफी कम दिनों में अस्पतालों के अंदर एक ऐसा सिस्टम काम करेगा जो प्रत्येक व्यक्ति को स्वास्थ्य लाभ पहुंचाएगा.

रांची से कुंदन की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News