मोतिहारी में मंत्री श्रवण कुमार ने मनरेगा व आवास समेत कई योजनाओं के कार्यों की समीक्षा की, अधिकारियों को दिये आवश्यक निर्देश

मोतिहारी में मंत्री श्रवण कुमार ने मनरेगा व आवास समेत कई योजनाओं के कार्यों की समीक्षा की, अधिकारियों को दिये आवश्यक निर्देश

मोतिहारी. बिहार सरकार के ग्रामीण विकास विभाग मंत्री श्रवण कुमार ने डॉ. राधाकृष्णन भवन मोतिहारी में मनरेगा, लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान, प्रधानमंत्री आवास योजना एवं जीविका से संबंधित योजनाओं की कार्य प्रगति से संबंधित पदाधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक की। इस दौरान मंत्री श्रवण कुमार ने अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिये। 

मनरेगा:- सभी कार्यक्रम पदाधिकारियों को इस योजनान्तर्गत अनुसूचित जाति एवं महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने का निर्देश दिया गया। साथ ही शत-प्रतिशत सक्रिय मजदूरों का आधार सीडिंग कराते हुए आधार बेस्ड भुगतान करने का निर्देश दिया गया। वृक्षारोपण योजना के तहत लगाये गये पौधों का विशेष देखभाल करते हुए उसकी उत्तरजीविता अधिक से अधिक बढ़ाने का निर्देश दिया गया। सभी प्रारंभ की गई योजनाओं को गुणवता के साथ पूर्ण कराने का निर्देश दिया गया। मानव दिवस सृजित करने के लिए अधिक से अधिक जनोपयोगी योजना लेने का निर्देश दिया गया। महादलित परिवारों को सुअर सेड की योजना से अच्छादित करने का निर्देश दिया गया। साथ ही जीविका के स्वयं सहायता समूहों को बकरी सेड एवं मुर्गी सेड में प्राथमिकता देने का निर्देश दिया गया।

लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान:- छूटे हुए सभी परिवारों को शौचालय उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया। साथ ही नियमित रूप से प्रचार-प्रसार करते हुए लोगों को खुले स्थानों में शौच नहीं करने के लिए जागरूक करने का निर्देश दिया गया। जिन महादलित परिवारों को शौचालय निर्माण के लिए भूमि उपलब्ध नहीं है, उनके लिए सामुदायिक शौचालय का निर्माण कराने का निर्देश दिया गया। साथ ही सामुदायिक शौचालय के रख-रखाव की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया। सभी चिन्हित ग्राम पंचायतों में एसएलडब्लूएम की योजना का गुणवता के साथ क्रियान्वयन कराने का निर्देश दिया गया। 

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण):- आवास प्लस के तहत 30 नवम्बर तक लक्ष्य के अनुसार शत-प्रतिशत आवास पूर्ण कराने का निर्देश दिया गया। इंदिरा आवास योजना के तहत 10 दिसम्बर तक सभी लंबित आवास पूर्ण कराने का निर्देश दिया गया। वहीं जीविका योजना के तहत गठित शत-प्रतिशत समूहों को वित्त पोषण करने का निर्देश दिया गया। जीविका के तहत नये-नये रोजगार सृजित करने का निर्देश दिया गया।

समीक्षा के क्रम में डीएम शीर्षत कपिल अशोक उप विकास आयुक्त, निदेशक, डी0आर0डी0ए0, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी (मनरेगा), कार्यपालक अभियन्ता (मनरेगा), जिला समन्वयक (एस0बी0एम0) एवं जिला परियोजना प्रबंधक (जीविका),  प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, कार्यक्रम पदाधिकारी (मनरेगा) एवं प्रखण्ड परियोजना समन्वयक (जीविका) आदि उपस्थित थे।


Find Us on Facebook

Trending News