उत्तर प्रदेश में हिंसा के सिलसिले में अब तक 300 से अधिक आरोपी गिरफ्तार, जावेद के अवैध निर्माण पर चला बुलडोजर

उत्तर प्रदेश में हिंसा के सिलसिले में अब तक 300 से अधिक आरोपी गिरफ्तार, जावेद के अवैध निर्माण पर चला बुलडोजर

DESK. उत्तर प्रदेश पुलिस ने आठ जिलों में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद पैगंबर मोहम्मद पर भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नुपुर शर्मा और पार्टी की दिल्ली इकाई से निष्कासित मीडिया प्रभारी नवीन जिंदल की टिप्पणी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के दौरान हुई हिंसा के सिलसिले में अब तक कुल 13 प्राथमिकियां दर्ज करते हुए 300 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया है।

रविवार को यहां जारी एक बयान में अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने बताया, राज्य के आठ जिलों से 304 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और इस संबंध में नौ जिलों में 13 प्राथमिकियां दर्ज की गई हैं। जिलेवार ब्यौरा देते हुए कुमार ने बताया, प्रयागराज में 91, सहारनपुर में 71, हाथरस में 51,अंबेडकर नगर और मुरादाबाद में 34-34, फिरोजाबाद में 15, अलीगढ़ में छह और जालौन में दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

वहीं, प्रयागराज में जुमे की नमाज के बाद शहर में हुए हिंसा व पथराव को लेकर अब पुलिस का एक्शन शुरू हो गया है। पुलिस ने शुक्रवार को शहर में हुए पथराव के मास्टरमाइंड जावेद अहमद उर्फ जावेद पंप सहित 68 लोगों को हिरासत में लिया है। पुलिस की तरफ से जावेद को ही हिंसा का मास्टरमाइंड बताया गया था। जावेद की गिरफ्तारी के बाद अब प्रयागराज अथॉरिटी यानी पीडीए भी एक्शन में आ गया है। प्रयागराज विकास प्राधिकरण (पीडीए) ने पहले उसके आवास पर एक विध्वंस नोटिस लगाया था, जिसमें उन्हें आज सुबह 11 बजे तक घर खाली करने के लिए कहा था क्योंकि यह "अवैध रूप से निर्मित" है.

प्रयागराज हिंसा के आरोपी जावेद अहमद के आवास के सामने भारी सुरक्षा बल तैनात है। जिसके बाद जावेद के घर पर बुलडोजर भी पहुंच गया। बुलडोजर ने जावेद का घर ध्वस्त करना शुरू भी कर दिया। बुलडोजर ने जावेद के घर का पहला दरवाजा तोड़ दिया है।


Find Us on Facebook

Trending News